Breaking News
  • बैंक खातों को आधार से जोड़ना अनिवार्य: आरबीआई
  • कट्टरता के खिलाफ भारत मजबूत कार्रवाई कर रहा है: सेना प्रमुख बिपिन रावत
  • कुपवाड़ा में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़
  • विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आज से बांग्लादेश के दो दिवसीय दौरे पर होंगी रवाना

कांग्रेस में शोक की लहर, इंदिरा-राजीव के करीबी रहे फोतेदार का निधन

गुरुग्राम: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व पीएम इंदिरा गांधी-राजीव गांधी के करीबी माने जाने वाले माखनलाल फोतेदार का गुरुवर को आज निधन हो गया। उन्होंने गुरुग्राम के एक अस्पताल में आखिरी सांस ली।

बतादें कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और इंदिरा गाँधी व राजीव गांधी के राजनीतिक सचिव रहे माखनलाल फोतेदार का गुरुवार को गुरुग्राम में निधन हो गया है। 1932 में जम्मू कश्मीर में जन्मे फोतेदार को 1950 के दशक में जवाहरलाल नेहरू सक्रीय राजनीति में लेकर आये थे। कांग्रेस पार्टी में जवाहरलाल नेहरु के करीबी होने के कारण उनका कद लगातर बढ़ता गया है। नेहरु की मौत के बाद इंदिरा गांधी ने भी उन्हें अपना राजनीतिक सचिव बनाया था।

अमेरिका को सबक सिखाने के लिए उत्तर कोरिया ने भर्ती किये 47 लाख नये सैनिक?

वहीँ इंदिरा गांधी की मृत्यु के बाद माखनलाल फोतेदार को राजीव गांधी ने अपना राजनीतिक सचिव बना लिया था। कांग्रेस में फोतेदार का कद बड़े नेताओं में शुमार था। बाद में इन्हें कैबिनेट मंत्री भी बनाया। फोतेदार अभी भी सीडब्ल्यूसी में स्थायी सदस्य थे। वहीँ गुरुवार को कांग्रेस नेता के निधन पर पार्टी में शोक छाया हुआ है।

फिर जागा आतंक का शैतान 'मुल्ला बुर्का'- जाने बुर्का पहन कर भागने वाले मुल्ले की खौफनाक...

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने फोतेदार के निधन पर शोक जताते हुए कहाकि उनके पांच दशक के लंबे राजनीतिक जीवन में उन्होंने लोगों के अधिकार के लिए अथक संघर्ष किये और पूरी गंभीरता के साथ उनकी सेवा की। सोनिया ने कहा कि फोतेदार कांग्रेस पार्टी के लिए मार्गदर्शन करने वाले व्यक्तित्व थे और उनके स्थान को कभी नहीं भरा जा सकता। सोनिया ने कहा कि फोतेदार की मृत्यु से कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है।

यह भी देखें-   

loading...