Breaking News
  • कोलकाता में ममता की महारैली में जुटा मोदी विरोधी मोर्चा, केजरीवाल, अखिलेश समेत 20 दिग्गज नेता
  • रूसी तट के पास गैस से भरे 2 पोत में आग लगने से 11 की मौत, 15 भारतीय भी थे सवार
  • जम्मू-कश्मीर: भारी बर्फबारी के बीच सुरक्षाबलों का ऑपरेशन ऑल आउट, 24 घंटे में 5 आतंकी ढेर
  • वाराणसी: 15वे प्रवासी सम्मेलन में पीएम मोदी, लोग पहले कहते थे कि भारत बदल नहीं सकता. हमने इस सोच को ही बदल डाला
  • नेपाल ने लगाया 2000, 500 और 200 रुपए के भारतीय नोटों पर बैन

RSS कार्यकर्ता ने दी मुख्यमंत्री को जान से मारने की धमकी, हुआ ये हाल

दुबई: केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन को धमकी दिए जाने के मामले के बाद पुलिस-प्रशासन में हड़कंप की स्थिती दिख रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री को जान से मारने की धमकी दुबई में रह रहे एक भारतीय शख्स ने दी है। वहीं खबर है कि मामले के बाद उस शख्स को नौकरी से निकाल दिया गया है।

खलीज टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ यानी आरएसएस समर्थक कृष्णकुमार एस.एन. नायर ने फेसबुक वीडियो के माध्यम से कहा कि वह घटना को अंजाम देने के लिए जल्द ही केरल आएगा। बताया जाता है कि अपने करीब चार मिनट के वीडियो में उसने कहा कि, मैं आरएसएस का पूर्व कार्यकर्ता हूं और अब मैं फिर से सक्रिय होने जा रहा हूं।

घाटी में 450 आतंकी: अमेरिका ने पाक को लगाई लताड़, कहा खत्म करो!

खबरों के अनुसार, उसने कहा कि मैं यहां अपनी नौकरी से इस्तीफा देकर केरल लौट रहा हूं। उसने कहा कि, मैं दुबई में हूं और हत्या करने के लिए मैं दो-तीन दिनों में केरल आ रहा हूं, मैं इस बात को लेकर ज्यादा परेशान नहीं हूं कि मेरे जीवन का अंत कैसे होगा। लेकिन अगर हमने किसी शख्स की हत्या का फैसला किया है तो इसे पूरा करने की जरूरत है।

इस आरोपी को काटने होंगे 200 साल जेल की सजा, जाने आखिर इसने ऐसा क्या कर दिया

बताया जाता है कि दुबई में अबूधाबी स्थित टारगेट इंजीनियरिंग कंस्ट्रक्शन कंपनी में रिगिंग सुपरवाइजर का काम करने वाले ने मुख्यमंत्री विजयन के लिए अपशब्दों का भी प्रयोग किया और साथ ही उसने उनकी जाति को लेकर भी टिप्पणी की। जिसके बाद सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट करने के मामले को लेकर उसे तत्काल प्रभाव से नौकरी से निकाल दिया गया है।

फेसबुक लाइव पर रजनीकांत की फिल्म काला का लाइव प्रसारण युवक को पड़ा भारी

नौकरी से निकाले जाने के बाद उसने कहा कि, मैंने अपनी नौकरी गंवा दी है और मैं किसी भी कार्रवाई का सामना करने को तैयार हूं। उसने कहा कि, मैं हमेशा आरएसएस का समर्थक बना रहूंगा। हालांकि इसके साथ ही उसने मुख्यमंत्री पिनरई विजयन के साथ-साथ सभी राजनेताओं से माफी भी मांगा है।

loading...