Breaking News
  • आज शाम 6 बजे तक खत्म हो सकता है कर्नाटक का नाटक, कुमारस्वामी करेंगे फ्लोर टेस्ट
  • बिहार के दरभंगा में अभी भी बाढ़ से राहत नहीं, लोगों ने सड़क पर ठिकाना
  • आज होगा ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री का चयन
  • बीजेपी संसदीय दल की बैठक के बाद, पीएम मोदी कर सकते हैं सांसदों को संबोधित

लाख जतन के बावजूद 12वीं में फेल हुए राहुल गांधी !

JAIPUR:- राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 12वीं साइंस के परिणाम में राहुल गांधी फेल हो गया है। राहुल के फेल होने पर जहां उसके दोस्ते उसका मजाक उड़ा रहे हैं वहीं उसके स्कूल के टीचर भी उसके फेल होने पर अफसोस जता रहे हैं। राहुल के फेल होने की बात पता चलते ये खबर सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी।

ये महज इत्तेफाक है कि राजस्थान बोर्ड की परीक्षा में फेल हुए स्टूडेंट का नाम भी राहुल गांधी ही है जो कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के नाम से मेल खाता है। ऐसे में राहुल की मार्कशीट में आए अंक हर किसी की जुबान पर चढ़े हैं।

असल में देशभर में पिछले सालों से अब तक हुए चुनावों में कांग्रेस की बुरी हार के पीछे राहुल गांधी पर ही निशाना साधा जा रहा है।जब से राहुल गांधी को कांग्रेस उपाध्यक्ष की कमान सौंपी गई है, तब से अब तक लोकसभा से लेकर विधानसभा और स्थानीय निकायों के चुनावों में भी कांग्रेस को मुंह की खानी पड़ी। इसके बाद से ही लगातार भाजपा से लेकर सोशल मीडिया तक ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को चुनाव जिताने के मामले में फेल बताया। ऐसे में इस मार्कशीट को राहुल गांधी की परफॉर्मेंस से मैच कराया जा रहा है।

rahul gandhi marksheet

टीचर भी नहीं करा पाए पास

दरअसल कोटा शिवालिक पब्लिक स्कूल के राहुल गांधी को 500 में से महज 215 अंक मिले हैं। राहुल केवल इंग्लिश और हिंदी में ही पास है। जबकि फिजिक्स, कैमिस्ट्री और मैथ्स में फेल हो गया है। उसे इंग्लिश की लिखित परीक्षा में 80 में से केवल 31 और सत्रांक में 20 में से 20 अंक मिले हैं। जबकि हिन्दी की लिखित परीक्षा में 80 में से केवल 18 अंक और सत्रांक में 20 में से 20 अंक मिले हैं। फिजिक्स की लिखित परीक्षा में 56 में से केवल 7, सत्रांक में 14 में से 14 और प्रेक्टिकल में 30 में से 29 अंक मिले हैं। कैमिस्ट्री की लिखित परीक्षा में 56 में से केवल 5 अंक, सत्रांक में 14 में से 14 और प्रेक्टिकल में 30 में से 29 अंक मिले हैं। मैथ्स की लिखित परीक्षा में 80 में से केवल 8 अंक और सत्रांक में 20 में से 20 अंक मिले हैं। सत्रांक और प्रेक्टिकल के अंकों को जोड़कर देखें तो सभी सब्जेक्ट में स्कूल का सहयोग राहुल गांधी को 148 नंबरों में 146 के रूप में मिला। जबकि राहुल ने सभी पेपर्स में शेष 352 में से केवल 69 नंबर अपने बल पर पाए और इस तरह लाख कोशिशों के बाजवूद राहुल गांधी फेल हो गया।

loading...