Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

शाह की रैली में पहुंची पुलिस, मच गया हंगामा

प.बंगाल : अंतिम चरण के चुनाव से पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह एक बार फिर उत्तरी कोलकाता से हुंकार भरने वाले हैं, लेकिन इस हुंकार को भरने से पहले ही शाह के रैली में कोलकाता पुलिस पहुंच गई। जिसके बाद जमकर बवाल हुआ। इस बवाल को लेकर बीजेपी ने ममता सरकार पर आरोप लगाया है कि वह जानबूझकर अड़ंगेबाजी कर रहीं है और भाजपा को परेशान करने के लिए उन्होंने प्रशासन को खुला छोड़ रखा है। आपको बता दें कि 19 मई को होनेवाले चुनाव में पश्चिम बंगाल के 9 सीटों पर मतदान होने है, जो टीएमसी की गढ़ है। और ममता को यह डर है कि कहीं उनका यह किला ‘भेद’ न हो जाएं ।

रिपोर्ट की मानें तो कोलकाता पुलिस ने अमित शाह की रैली को लेकर तैयार मंच को तोड़ने को कहा है। प्रशासन का यह कहना है कि इस रैली को लेकर कोई अनुमति नहीं मांगी गई है, अगर वे परमिशन लेटर नहीं देते हैं तो मंच तोड़ना पड़ेगा। जिसके बाद लगातार विवाद बढ़ता जा रहा है। बीजेपी कार्यकर्ता रैली स्थल पर अड़े हैं।

सूत्रों की मानें तो रैलीस्थल के पास का माहौल तनावपूर्ण हो गया है। बीजेपी कार्यकर्ता लगातार नारेबाजी कर रहे हैं और पुलिस वालों को घेरने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं कोलकाता पुलिस और राज्य चुनाव आयोग के अधिकारी सड़कों से पीएम मोदी और अमित शाह का पोस्टर हटा रहे हैं। बीजेपी नेता मुकुल रॉय ने आरोप लगाया कि राज्य चुनाव आयोग के अधिकारी ममता सरकार के समर्थक के रूप में काम कर रहे हैं।

 

अमित शाह ने ट्वीट कर कहा कि वह धर्मतल्ला के शहीद मीनार मैदान से मनिकातल्ला के विवेकानंद हाउस तक रोड शो निकालेंगे। बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, ‘कोलकाता में अमित शाह की रैली में अड़ंगेबाजी की कोशिश हो रही है। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने भाजपा को परेशान करने के लिए प्रशासन को खुला छोड़ रखा है। जिसे लेकर अमित शाह जी की रैली में अड़चन डालने के लिए लाऊडस्पीकर को पुलिस ने मुद्दा बना लिया है। ये चुनाव आचार संहिता है या ममता सरकार की हठधर्मी?"

 

जिसके बाद कैलाश विजयवर्गीय ने अपने ट्वीट के साथ एक वीडियो भी जारी किया है। इस वीडियो में वे कोलकाता पुलिस के एक अधिकारी के साथ बात करते नजर आ रहे हैं। कोलकाता पुलिस के अधिकारी विजयवर्गीय को बता रहे हैं कि वे आचार संहिता का पालन नहीं कर रहे हैं। जबकि कैलाश विजयवर्गीय ऐसा कुछ भी न होने की बात कह रहें है।

बता दें कि इससे पहले भी सोमवार को पश्चिम बंगाल में अमित शाह और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की कुछ रैलियों को रद्द कर दिया गया था। जिस दौरान अमित शाह जादवपुर और योगी आदित्यनाथ की रैली 15 मई को होने वाली थी।

loading...