Breaking News
  • असम में आज दोपहर 1.55 बजे तक कोरोना के 111 नए मामले, कुल संख्या 1672 हुई
  • 69,000 सहायक शिक्षकों की चल रही भर्ती प्रक्रिया पर लखनऊ हाईकोर्ट बेंच ने लगाई रोक
  • IB कर्मचारी अंकित शर्मा मर्डर केस में तारीन हुसैन का हाथ, दिल्ली पुलिस ने दाखिल की चार्जशीट
  • महाराष्ट्र में कोंकण तट से टकराया निसर्ग चक्रवात, 100 KMPH की रफ्तार से चल रही है हवाएं
  • हर प्रवासी मजदूर को 10 हजार की एकमुश्त मदद दे केंद्र : ममता बनर्जी

पीएम मोदी ने किया पश्चिम बंगाल को लेकर बड़ा ऐलान, ममता ने कहा इससे ज्यादा तो हमारा बकाया

रिपोर्ट : ए.के.रंजन

नई दिल्ली : ओडीसा के समुद्री तट से निकले अम्फान तूफान ने पूरे पश्चिम बंगाल में त्राहिमाम मचा दिया, जिसे लेकर सुप्रीमो ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से हवाई दौरा करने की गुजारिश की। जिसके बाद पीएम मोदी ने भी आज हवाई दौरा कर राज्य के क्षति का आंकलन किया और राज्य को एक हजार करोड़ रूपये राहत पैकेज की बात कही। पीएम मोदी के इस ऐलान से ममता बिफर पड़ी और उन्होंने कहा कि राज्य का नुकसान एक लाख करोड़ का हुआ और पैकेज सिर्फ एक हजार करोड़ का दिया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने एक हजार करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया है, लेकिन इससे जुड़ी कोई जानकारी नहीं दी है। यह पैसा कब मिलेगा या यह अग्रिम धनराशि है। अम्फान तूफान के कारण एक लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। 56 हजार करोड़ रुपया तो हमारा ही केंद्र पर बकाया है।

आपको बता दें कि हवाई सर्वेक्षण के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि, 'अम्फान चक्रवात से निपटने के लिए राज्य सरकार और केंद्र सरकार ने मिलकर भरसक प्रयास किया, लेकिन उसके बावजूद करीब 80 लोगों का जीवन नहीं बचा पाएं, इसका हम सभी को दुख है और जिन परिवारों ने अपना स्वजन खोया है उनके प्रति केंद्र और राज्य सरकार की संवेदनाएं हैं।'

पीएम नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि, 'लोगों को हर संभव मदद प्रदान करने के लिए केंद्र और राज्य मिलकर काम कर रहे हैं। अभी तत्काल राज्य सरकार को कठिनाई न हो इसके लिए 1000 करोड़ रुपये भारत सरकार की तरफ से व्यवस्था की जाएगी। साथ ही प्रधानमंत्री राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 2 लाख और घायलों को 50 हजार रुपये की सहायता दी जाएगी।' आपको बता दें कि इससे पहले पीएम मोदी ने कोरोना महामारी को लेकर भी 21 लाख करोड़ रूपये का राहत पैकेज का ऐलान किया था, जिसके बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस पैकेज को विभिन्न भागों में बांटा।

loading...