Breaking News
  • संसद के शीतकालीन सत्र का आज दूसरा दिन
  • मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव: 114 सीटों के साथ कांग्रेस पहले नंबर की पार्टी, भाजपा के खाते में 109
  • विधानसभा चुनाव: जीतने वाली दलों को पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं, जनता को धन्यवाद
  • बीजेपी की नीतियों से जनता दुखी है, यही वजह है कि कांग्रेस जीती: मायावती

राहुल गांधी पर एक साथ टूट पड़े भाजपा के दो सबसे बड़े चेहरे!

नई दिल्ली: राजस्थान विधानसभा चुनाव जीतने की होड़ में लगी सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी और मुख्य विरोधी कांग्रेस पार्टी के नेता एक दूसरे पर लगातार हमला बोल रहे हैं। इस बीच सोमवार को भारतीय जनता के दो सबसे बड़े चेहरे ने कांग्रेस पार्टी के सबसे बड़े चेहरे अध्यक्ष राहुल गांधी पर एक के बाद एक कई हमले किया।

एक ओर राजस्थान के जोधपुर में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए भाजपा के ‘सबसे बड़े चहेरे’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पार्टी और राहुला गांधी पर हिंदुत्व को लेकर पलटवार किया तो वहीं बूंदी और माधोपुर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी राहुल गांधी पर जोरदार हमला बोला।

राहुल को भारी पड़ा मोदी के हिंदुत्व पर सवाल, नेहरू से लेकर सोनिया तक...

माधोपुर में सभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि, भारतीय जनता पार्टी से ज्यादा मोदी जी का नाम राहुल गांधी ले रहे हैं, हमें तो समझ नहीं आता कि वो कांग्रेस का प्रचार कर रहे हैं या भाजपा का। शाह ने कहा कि जिस कांग्रेस पार्टी को भारत माता की जय बोलने में शर्म आती है, उसको देश की राजनीति में रहने का अधिकार नहीं है।

गोहत्या के शक में जंग का मैदान बना बुलंदशहर, पुलिस इंस्‍पेक्‍टर की हत्या!

इसके साथ ही अपनी सरकार के काम-काज का बखान करते हुए शाह ने कहा कि राजस्थान में भाजपा की सरकार द्वारा भामाशाह योजना के अंतर्गत 24 लाख लोगों का ईलाज करवाया गया, उज्ज्वला योजना में 47 लाख कनेक्शन वितरित किये गये, 11 लाख बेटियों को राजश्री योजना का लाभ दिया गया और 80 लाख शौचालयों का निर्माण करवाया गया।

OMG: उल्लुओं की मदद से चुनाव जीतना चाहते थे नेता, लेकिन हो गया भंडाफोड़!

वहीं एक अन्य सभा के दौरान शाह ने कहा कि राहुल बाबा जोर-जोर से बोल रहे थे कि मध्य प्रदेश और राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी। राहुल बाबा स्वप्न देखना अच्छी बात है पर दिन में सपने देखना अच्छा नहीं होता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के पास ‘मोदी हटाओ’ के अलावा कोई मुद्दा ही नहीं है।

loading...