Breaking News
  • कोलकाता में ममता की महारैली में जुटा मोदी विरोधी मोर्चा, केजरीवाल, अखिलेश समेत 20 दिग्गज नेता
  • रूसी तट के पास गैस से भरे 2 पोत में आग लगने से 11 की मौत, 15 भारतीय भी थे सवार
  • जम्मू-कश्मीर: भारी बर्फबारी के बीच सुरक्षाबलों का ऑपरेशन ऑल आउट, 24 घंटे में 5 आतंकी ढेर
  • वाराणसी: 15वे प्रवासी सम्मेलन में पीएम मोदी, लोग पहले कहते थे कि भारत बदल नहीं सकता. हमने इस सोच को ही बदल डाला
  • नेपाल ने लगाया 2000, 500 और 200 रुपए के भारतीय नोटों पर बैन

सड़क पर तड़पकर मर गए तीन युवक और लोग करते रहे यह शर्मनाक हरकत

जयपुर: 21वीं सदी कैसे होगी? डिजिटल होगा। लोग पढ़े लिखे होंगे। हर हाथ में मोबाइल होगा और तशरीफ़ टिकाने के लिए भी अच्छी जगह होगी, लेकिन नहीं होगी तो मानवता, नहीं होगी इंसानियत, नहीं होगी तो मर्यादा। क्योंकि हम इतने संवेदनहीनता जो चुके हैं।

दरअसल कभी कभार ऐसी घटनाओं से हमे आपको रूबरू होना पड़ता है जिसे पढ़कर, जानकार रोना आ जाएगा। काश कि ऐसा ना हो, लेकिन सोचिये कि आपका एक्सीडेंट हो गया है और आप सड़क पर खून से लथपथ पड़े, कराह रहे हैं। ऐसे में आपके चारो ओर मौजूद भीड़ से आप क्या उम्मीद करोगे? कि वह आपको जल्द से जल्द अस्पताल ले जाए और आपके परिवार वालों को सूचित करें। अगर आप जरा भी जोश में हुए तो यही सोचोगे। लेकिन आप सड़क पर खून से सने हुए पड़े हो और कराह भी रहे हो पर आपके चारो ओर मुर्दे जैसी खड़ी भीड़ आपको इलाज ले लिए मदद करने के बजाय सेल्फी लेने और विडिओ बनाने में बिजी हो तो आपपर क्या बीतेगी?

बड़ी खबर: मणिपुर में बड़ी कुदरती आपदा, दर्जनों हो गये जमींदोज

एक बार फिर से सोचिये और उस मंजर को याद करिए। दरअसल स्मार्ट होने के साथ साथ हम संवेदनहीन भी होते जा रहे हैं। दिल में तिल के बराबर भी मानवता और इंसानियत नहीं बची है। अगर बची होती तो राजस्थान के बाड़मेर जिले में एक सड़क दुर्घटना का शिकार हुए तीन लोग इलाज के आभाव में सड़क पर ही नहीं दम तोड़ देते। अगर जरा भी लोगों में मानवता होती तो वह घंटों सेल्फी लेते, विडिओ बनाकर उसे सोशल मीडिया पर डालने की बजाय घायलों को अस्पताल ले जाने का काम करते।

पंजाब: बदले-बदले से नजर आये पीएम मोदी के सुर, किसानों की आय पर बड़ा बयान

लेकिन यहाँ मरने वाला कोई अपना नहीं था। इसलिए सड़क पर तड़पते लोगों के लिए किसी का दिल पसीजा नहीं और घटिया खींसे निकालते हुए सेल्फी लेते रहे। जैसे कि उस सेल्फी को फ्रेम करवाकर घर रखेंगे। दरअसल मंगलवार को बाड़मेर में एक बाइक स्कूल बस ने टक्कर मार दी, जिसमें बाइक सवार तीन लोग बुरी तरह घायल हो कर सड़क पर ही तड़पते रहे। इसे दौरान उनके आस पास दर्जनों मुर्दे के समान लोग सेल्फी लेते रहे। जोकि सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

यह भी देखें-

loading...