Breaking News
  • हिंदुस्तान का लॉकडाउन फेल हुआ, सरकार आगे की रणनीति बताए : राहुल गांधी
  • जम्मू-कश्मीर : पुंछ के बालाकोट सेक्टर में पाकिस्तान ने तोड़ा सीजफायर, दागे मोर्टार
  • महाराष्ट्र : पिछले 24 घंटे में 90 और पुलिसकर्मी संक्रमित, संक्रमित पुलिसकर्मियों की तादाद 1889 पहुंची
  • मरकज मामले में आज चार्जशीट दायर करेगी दिल्ली पुलिस, 20 देशों के 83 विदेशी जमातियों के नाम
  • देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 145380, 60490 ठीक, 4167 की मौत

ईद के मौके पर ममता का सौहार्द का प्रेम, ...साधा निशाना

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को ईद के अवसर पर लोगों को मुबारक बाद दी। इसके साथ ही उन्होंने विपक्षी दलों को भी आड़े हाथों लिया। केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि  बंगाल में किसी को डरने की जरूरत नहीं है। हम हिंदू-मुस्लिम, सिख और ईसाई सभी धर्मों की रक्षा करेंगे, जो हमसे टकराएगा वह चूर चूर हो जाएगा।

जिसके बाद उन्होंने सभी धर्मों को एक सूत्र में पिरोने के भी राग छेड़ें। उन्होंने कहा कि त्‍याग का नाम है हिंदू, इमान का नाम है मुसलमान, प्‍यार का नाम है इसाई, सिखों का नाम है बलिदान, ये है हमारा प्‍यारा हिंदुस्‍तान...। इसकी रक्षा हम लोग करेंगे, जो हमसे टकराएगा वो चूर चूर हो जाएगा। यही हमारा नारा है। ममता ने आगे कहा कि मुद्दई लाख बुरा चाहे तो क्या होता है, वही होता है जो मंजूर-ए-खुदा होता है।

ममता ने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि कभी-कभी जब सूरज उगता है तो उसकी रोशनी बड़ी तीखी होती है लेकिन बाद में वह मद्धिम पड़ जाती है। जिस तेजी से उन्होंने ईवीएम पर कब्जा किया था, उतनी ही तेजी से पलायन कर जाएंगे। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी की मजबूत होती पकड़ के चलते ममता काफी उग्र हो गई थी। जिसके बाद बंगाल में लगातार हिंसा बढ़ता गया, इस हिंसा में कई बीजेपी कार्यकर्ता भी मारे गए। बता दें कि ममता का यह सौहार्द प्रेम आगामी दो वर्षों में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर है, जो 2021 में होने है।

loading...