Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

अनुच्छेद 370 को लेकर बीजेपी के इस नेता ने 30 साल पहले लिया था ऐसा संकल्प...

नई दिल्ली : अनुच्छेद 370 एक ऐसी धारा, जो हालहीं में खत्म हुई है। लेकिन इस धारा को लेकर पहले ये कयास लगाए जा रहें थे कि ये धारा कभी नहीं होने वाला है। क्योंकि इस धारा को लेकर आज तक सभी दल एकजुट नहीं हुए हैं। जब 2019 के संसदीय सत्र के दौरान भी अनुच्छेद 370 पर पुनर्गठन बिल पास होने की बात हुई तो, इस समय भी कई दल और दलों के नेता इस बिल का विरोध कर रहें थे। लेकिन जब बहुमत की बात आईं तो अधिकतर वोट इस बिल के पक्ष में पड़े, जिससे यह पास हो गई।

अनुच्छेद 370 पुनर्गठन बिल पास होना मानों बीजेपी के इस विधायक के लिए एक संजीवनी साबित हुईं। क्योंकि इस बिल को लेकर राजस्थान से बीजेपी के विधायक मदन दिलावर ने एक अनोखी शपथ ले रखीं थीं। जिसमें उन्होंने यह प्रण लिया था कि जब तक यह कानून खत्म नहीं हो जाएगा तब तक वे गद्दे पर नहीं सोंगे। जिसके बाद वे जमीन पर सोने लेगे। लेकिन जब सदन के दोनों सदनों में यह बिल पास हो गई, जिसके बाद वे तकरीबन 30 साल बाद गद्दे पर सोएं।

हालांकि उनके इस प्रण को लेकर कई लोगों ने कटाक्ष भी किया, जिसमें उनके मित्र और परिवार वाले भी शामिल थे, जो कहते थे की ज़िंदगी निकल जाएगी और ऐसे ही फर्श पर सोते रह जाओगे। लेकिन, जैसे ही अनुच्छेद 370 हटा उन्होंने अपना संकल्प तोड़ दिया और गद्दे पर सोने लगे। बता दें कि दिलावर ने यह शपथ मुरली मनोहर जोशी के साथ तिरंगा यात्रा के दौरान लिया था। उन्होंने कहा कि जब मैं यात्रा कर रहा था तभी कश्मीर और कश्मीरियों के हालत को करीब से जाना था।

मदन दिलावर ने कहा कि इस दौरान उन्होंने दो संकल्प लिए थे। पहला था जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटने पर गद्दे पर सोना और दूसरा है राम मंदिर निर्माण के बाद माला पहनना। ऐसे में पहला संकल्प तो पूरा हो गया हालांकि दूसरा संकल्प अभी भी बाकी है। बता दें कि मदन दिलावर राजस्थान के रामगंज मंडी विधानसभा के पूर्व विधायक हैं।

हालांकि अनुच्छेद 370 के खत्म होने के बाद जहां देश भर में काफी संख्या में लोग खुश हैं तो वहीं घाटी में विरोध के स्वर सुनाई दे रहे हैं। जिसे जल्द ही शांत होने की उम्मीद है।

loading...