Breaking News
  • मोदी की बंपर जीत पर राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं
  • अमेठी सीट से हारे राहुल गांधी, वायनाड से मिली जीत
  • प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में पहुंचे राहुल गांधी
  • राहुल गांधी के इस्तीफे पर सस्पेंस बरकरार
  • मां से आशीर्वाद लेने के लिए कल गुजरात जाएंगे मोदी
  • सूरत अग्निकांड में अब तक 21 की मौत, 3 के खिलाफ FIR दर्ज
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव 2019: NDA को प्रचंड बहुमत, 300 से अधिक सीटों पर बीजेपी की जीत
  • 24 मई: आज भंग हो सकती है 16वीं लोकसभा, पीएम मोदी की अध्यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक

बीजेपी को वोट न देने पर भाई ने मारी भाई को सरेआम गोली, मां भी ...

हरियाणा : अक्सर आपने जमीन विवाद को लेकर भाई को भाई के साथ लड़ते देखा होगा। लेकिन क्या आपने कभी ऐसा सुना है कि किसी भाई ने किसी राजनीतिक पार्टी के लिए अपने भाई को गाली मारी हो। जी हां यह अजीबो गरीब मामला है हरियाणा के झज्जर का। जहां एक भाई ने अपने चचेरे भाई को इसलिए गोली मार दी कि उसने बीजेपी को वोट न देकर कांग्रेस को दिया था। इस हमले में युवक की मां भी घायल हो गई है। जिन्हें इलाज के उपरांत तुरंत छोड़ दिया गया।

जबकि वह युवक अभी अस्पताल में भर्ती है लेकिन खतरे से बाहर है। ऐसा बताया जा रहा है कि आरोपी बीजेपी का प्रबल समर्थक है। बीजेपी को वोट देने के लिए वह लगातार अपने क्षेत्र में एक्टिव है औऱ लोगों को बीजेपी को वोट देने को कह रहा है। लेकिन उस युवक के चचेरे भाई ने बीजेपी को वोट देने से इंकार कर दिया। जिसके बाद उस आरोपी युवक ने अपने भाई पर गोली चला दी। इस घटना के बाद से वह युवक फरार है।

सूत्रों की मानें तो उस युवक का नाम धर्मेंद्र है जबकि उसके चचेरे भाई का नाम राजा है।   

इस घटना पर झज्जर के एसएचओ रमेश कुमार ने कहा कि गोली चलने की घटना की सूचना मिली थी। सूचना के बाद जबतक हम वहां पहुंचे, तबतक आरोपी धर्मेंद्र वहां से फरार हो गया था। राजा को जो गोली लगी है, वह अवैध हथियार से चलाई गई है। इस मामले में राजा की शिकायत पर आरोपी धर्मेंद्र के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है और जल्द ही उसकी गिरफ्तारी की जाएगी।

बता दें कि यह घटना छठे चरण के चुनाव यानी 12 मई के दौरान की है।

loading...