Breaking News
  • कोहरे की वजह से दिल्ली आने-जाने वाली 15 ट्रेनें रद्द, 39 देरी से
  • मेघालय,त्रिपुरा और नागालैंड में विधानसभा चुनाव तारीखों की आज होगी घोषणा
  • नाइजीरिया: मदुईगिरी आत्मघाती बम धमाके में 12 की मौत, कई घायल
  • एक दिवसीय क्रिकेट में 'क्रिकेटर ऑफ द इयर' का खिताब विराट कोहली के नाम

गोरखपुर हादसा या हत्या: लोगों का फूट रहा योगी सरकार पर गुस्सा

भोपाल/लखनऊ: गोरखपुर के मेडिकल अस्पताल में हुई बच्चों की मौत पर लगातार लोगों का योगी सरकार के खिलाफ गुस्सा निकल रहा है। इसी बीच बच्चों के लिए काम करने वाले और नोबेल पुरुस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने इस घटना पर दुःख व्यक्त करते हुए कहा कि यह हादसा नहीं बल्कि हत्या है।

बतादें कि गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में हुई 63 बच्चों की पर देशभर में गुस्सा और आक्रोश का माहौल बना हुआ है। हर कोई इस हादसे की भरसक निंदा कर योगी सरकार के सवाल खड़े कर रहा है।

बच्चों की मौत पर नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने कहा कि बिना ऑक्सीजन के बच्चों की मौत हादसा नहीं, बल्कि हत्या है। क्या हमारे बच्चों के लिए आजादी के 70 सालों का यही मतलब है।

उन्होंने कहा कि हम आजादी के 70 का जश्न माना रहे हैं, लेकिन उन बच्चों को बेहतर ओक्सीजन नहीं दे सकते हैं ऐसी आजादी और जश्न का क्या मतलब।

सत्यार्थी ने ट्वीट में सीएम योगी आदित्यनाथ से अपील करते हुए लिखा है कि आपका एक निर्णायक हस्तक्षेप दशकों से चली रही भ्रष्ट स्वास्थ्य व्यवस्था को ठीक कर सकती है ताकि ऐसी घटनाओं को आगे रोका जा सके। गोरखपुर के बड़े अस्पतालों में गिने जाने वाले बीआरडी मेडिकल कालेज के  इंसेफ़लाइटिस बार्ड के मरीजों की गुरुवार से ही ओक्सीजन काट दी गयी थी, जिसमें अभी तक 63 बच्चों की मौत हो चुकी है।

loading...