Breaking News
  • अयोध्या मामले में 2 अगस्त से खुली कोर्ट में सुनवाई, 31 जुलाई तक मध्यस्थता की प्रक्रिया
  • महाराष्ट्र में गोरखपुर अंत्योदय एक्सप्रेस पटरी से उतरी
  • अमरनाथ यात्रा पर आतंकी कर सकते हैं आतंकी हमला : सूत्र
  • कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार का शक्ति परीक्षण, 2 बसों में विधानसभा पहुंचे BJP विधायक

BJP कार्यकारी बॉस पहुंचे रांची, यहां करेंगे....

रांची: भारतीय जनता पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा पार्टी नेताओं को जीत का मंत्र देने के लिए झारखंड की राजधानी रांची पहुंचे हुए हैं। विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के लिए जेपी नड्डा ने राज्य स्तर पर पार्टी में बड़े बदलाव करने का संकेत दिए हैं। उन्होंने बताया कि हमने संरचनात्मक और सांगठनिक स्तर पर आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की है। झारखंड में नवबंर-दिसंबर में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इस दौरान एक सवाल पर जेपी नड्डा ने यह भी कहा कि यदि क्रिकेटर महेंद्र धोनी बीजेपी ज्वॉइन करना चाहते हैं तो उनका स्वागत है।

बैठक में जेपी नड्डा ने कहा कि आगामी चुनाव को देखते हुए पार्टी का पूरा ध्यान सदस्यता अभियान पर है। इसी को देखते हुए पार्टी के सांसदों, विधायकों और पदाधिकारियों के साथ बैठक की गई। कार्यकर्ताओं को बूथ स्तर पर सक्रिय किया जा रहा है। नड्डा ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में मिशन 65 प्लस की उपलब्धि हासिल करने के लिए वे आशान्वित हैं। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत, महिला सशक्तीकरण और सड़क संपर्क में झारखंड अन्य प्रदेशों से आगे है।

वहीं मॉब लिंचिंग के सवाल पर नड्डा ने कहा कि यह कानून और व्यवस्था का मामला है, किसी व्यक्ति को कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है। इससे पहले शनिवार को जेपी नड्डा ने मुख्यमंत्री रघुबर दास, केंद्रीय जनजातीय मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा और अन्य स्थानीय नेताओं के साथ राज्य अतिथि गृह में बीजेपी कोर कमेटी की बैठक में हिस्सा लिया।

बाद में, जेपी नड्डा ने जिला अध्यक्षों की एक बैठक में भी हिस्सा लिया। यहां उन्होंने कहा कि झारखंड के लोगों ने 2014 और 2019 के लोकसभा चुनावों में पार्टी को अपना आशीर्वाद दिया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने राज्य की 14 संसदीय सीटों में से 12 सीटें जीती, वहीं 2014 के विधानसभा चुनाव में 82 सदस्यीय सदन में 37 सीटें जीतीं।

इसी के साथ उसके सहयोगी अखिल झारखंड छात्र संघ ने भी पांच सीटों पर जीत हासिल की।  इसके बाद नड्डा ने कहा, "2019 के विधानसभा चुनावों में इसे बनाए रखा जाना चाहिए।" बता दें कि झारखंड में इस साल नवंबर-दिसंबर में विधानसभा चुनाव होने हैं।

loading...