Breaking News
  • आज शाम 6 बजे तक खत्म हो सकता है कर्नाटक का नाटक, कुमारस्वामी करेंगे फ्लोर टेस्ट
  • बिहार के दरभंगा में अभी भी बाढ़ से राहत नहीं, लोगों ने सड़क पर ठिकाना
  • आज होगा ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री का चयन
  • बीजेपी संसदीय दल की बैठक के बाद, पीएम मोदी कर सकते हैं सांसदों को संबोधित

‘देशद्रोह के मामले’ में जेएनयू छात्र संघ का अध्यक्ष गिरफ्तार

नई दिल्ली: दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार को पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ़्तार कर लिया है। पिछले दिनों विश्वविद्यालय परिसर में संसद हमले के दोषी अफ़जल गुरु की बरसी पर कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जिसमें भारत विरोधी नारे लगाए गए थे।

मामले में काफी बवाल मचने के बाद पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद महेश गिरी की शिकायत पर पुलिस ने कई अज्ञात लोगों के ख़िलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया था। मामले से नाराज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के सदस्यों ने जम कर प्रदर्शन किया और इसमे लिप्त लोगों पर कड़ी कार्यवाई की मांग किए।

इससे पहले गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी इस मामले पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि देशद्रेह के मामले में किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा, जांच के बाद दोषियों रक सख्त कार्यवाई कि जाएगी।

वहीं जेएनयू में इस कार्यक्रम के आयोजनकर्ताओं का कहाना है कि उन्हें संविधान के तहत मिले अभिव्यक्ति की आज़ादी के अधिकार के तहत अपनी बात कहने का हक़ है।

अब जरा आप ही सोचिए की संविधान के कैन से पन्ने में अभिव्यक्ति की आज़ादी इस तरह से बताई गई है कि कोई वयक्ती अपने राष्ट्र के अपमान में नारे लागाए और देश के संसद पर हमले के आरोपी की पैरवी करे। जिस आतंकी को देश के सबसे बड़ी अदालत ने फांसी की सजा दे दी है, उसे ये चंद लोग निर्दोश और शहीद का दर्जा देने की पैरवी कर रहे है और देश का माहौल बिगाड़ने की प्रयास कर रहे है।

loading...