Breaking News
  • जम्मू-कश्मी: सोपोर में आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, कई इलाकों में मोबाइल और इंटरनेट सेवा बंद
  • सपा-बसपा सरकारों के पास गरीबी को हटाने के लिए कोई एजेंडा नहीं था: सीएम योगी
  • सर्जिकल स्ट्राइक के दो साल पूरे होने पर देश मनाएगा पराक्रम पर्व
  • आज सुबह 9:17 बजे असम की बारपेटा में 4.7 तीव्रता से भूकंप के झटके

MP: महज 24 दिन में ही कोर्ट ने सुनाई बलात्कारी को फांसी की सजा

इंदौर: मध्य प्रदेश के इंदौर की जिला अदालत ने एक नजीर पेश करने वाला फैसला सुनाया है। कोर्ट ने यहाँ चार माह की बच्ची से रेप और बर्बरता से हत्या के मामले में महज 24 दिन में ही आरोपी को फांसी की सजा सूना दी है। वहीँ कोर्ट के इस फैसले पर राज्य के सीएम ने भी ख़ुशी जताई है।

बतादें कि पूरा मामले इन्दौर का है, जहाँ एक चार माह की बच्ची से परिवार के ही रिश्तेदार ने बलात्कार के बाद जमीन में पटक पटककर बेरहमी से हत्या कर दी थी। वहीँ इस मामले में इंदौर के जिला अदालत ने फास्ट ट्रैक के तहत सुनवाई कर महज 3 सप्ताह में नही फैसला सुना दिया है। बताया जा रहा है कि 19 अप्रैल को इंदौर के राजबाड़ा में एक बच्ची के रिश्तेदार ने उसके साथ बलात्कार कर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी थी। वहीँ इस घटना के सामने आने के बाद क्षेत्र में बड़ा विरोध भी हुआ था।

उन्नाव गैंगरेप: बीजेपी विधायक की वापस ली गयी Y श्रेणी की सुरक्षा, निरस्त होगी...

रेप की घटना के बाद कोर्ट में किसी भी वकील ने रेप के आरोपी की पैरवी ही नहीं की। जिससे इस मामले में कोर्ट ने महज 24 दिन में ही आरोपी को फांसी की सजा सुना दी है। बताया जा रहा है कि चार माह की बच्ची से रेप के मामला आने के बाद इंदौर बार एसोसिएशन ने बलात्कार के आरोपी की पैरवी न करने का फैसला लिया था। वहीँ पुलिस की जांच और फास्ट ट्रैक कोर्ट की सुनवाई में इस मामले में महज 24 दिन में ही फैसला आ गया है।

JK: ISIS ने किया था गार्ड पोस्ट पर हमला, आतंकी मुठभेड़ में एक जवान शहीद

वहीँ फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट के फैसले पर राज्य के सीएम शिवराज सिंह चौहान, ट्वीट कर ख़ुशी जताई है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि, ‘इंदौर ज़िला न्यायालय का यह फ़ैसला इस बिल के तहत लिया गया पहला और एक ऐतिहासिक निर्णय है। इससे ना सिर्फ़ ऐसा कृत्य करने वाले लोगों के मन में डर बैठेगा बल्कि हमारी बच्चियों और महिलाएँ में भी सुरक्षा का भाव जागृत होगा’। वहीँ आगे उन्होंने लिखा कि, ‘मैं आप को एवं इंदौर पुलिस की पूरी टीम को इस केस में त्वरित जाँच करने के लिए बधाई देता हूँ, और मात्र तीन हफ़्तों में न्यायालय द्वारा दिए इस फ़ास्ट ट्रैक फ़ैसले का स्वागत करता हूँ। किसी भी सभ्य समाज में ऐसे लोगों के लिए कोई जगह नहीं है’। ज्ञात हो कि राज्य सरकार ने बच्चियों के रेप के आरोपियों के लिए फांसी की सजा का प्रावधान किया है।

यह भी देखें-

loading...