Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

लखनऊ में है एशिया का सबसे बड़ा दवा बाजार- बंदी ने बिगाड़ दिए हालात

नई दिल्ली/लखनऊ: ई-फार्मेसी एक्ट के विरोध में दवा कारोबारियों के देशव्यापी बंद का असर देश के अलग-अलग स्थानों पर देखने को मिला, वहीं उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित अमीनाबाद दवा बाजार आंशिक रूप से बंद दिखा। अमीनाबाद दवा बाजार की पहचान एशिया के सबसे बड़े दावा बाजाप के तौर पर की जाती है। यहां के दवा कारोबारियों का दावा है कि बंदी के कारण अकेले लखनऊ में ही दवा कारोबारियों को 50 करोड़ रुपये नुकसान हुआ है।

दवा कारोबारियों के अनुसार सरकार हमारे कारोबार को तबाह कर देना चाहती, जिसके खिलाफ चेतावनी देने के लिए हमने आज एक के लिए बंद का ऐलान किया है, अगर सरकार हमारी मांगे नहीं मानती है तो इसके बाद हम लोग रणनीति तैर कर इससे भी बड़ा आंदोलन शुरू करेंगे। इसके साथ दवा कारोबारियों के संगठन ने जिलाधिकारी के माध्यम से सरकार को अपनी मांगों के साथ ज्ञापण सौंपा है।

‘70 साल में पतली पिन का चार्ज तक नहीं बना सके, अब मोबाइल की फैक्ट्री खोलेंगे राहुल’

आपको बता दें कि राजधानी लखनऊ में केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट फेडरेशन के बैनर तले फुटकर दवा कारोबारियों ने हड़ताल किया। अपनी मांगों को लेकर एसोसिएशन के महासचिव सुरेश गुप्ता के अनुसार, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 31 दिसंबर, 2017 तक खुदरा दवा दुकानों के लिए जारी ड्रग लाइसेंस के अनुपात में फार्मासिस्ट की कमी पूरी करने की व्यवस्था करनी चाहिए।

व्यापमं घोटाला: कांग्रेस के इन दिग्गजों के खिलाफ भी केस दर्ज, जानिया क्या है अपराध

उन्होंने कहा कि हमारी दूसरी मांग है कि दवा कानून के विरोध में बनाए नए नियम द्वारा दवा कारोबारियों का उत्पीड़न बंद किया जाए। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हम दवा व्यापार में ई-फार्मेसी को लागू करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा 28 अगस्त को जारी ड्राफ्ट अधिसूचना का विरोध कर रहे है।

सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ पर Uri का Teaser जारी, PAK को राख करने की कहानी

loading...