Breaking News
  • सोनभद्र जाने पर अड़ी प्रियंका गांधी, धरने का दूसरा दिन
  • असम और बिहार में बाढ़ से 150 लोगों की गई जान, 1 करोड़ से अधिक लोग प्रभावित
  • इलाहाबाद हाइकोर्ट ने पीएम मोदी को जारी किया नोटिस, 21 अगस्त को सुनवाई
  • कर्नाटक पर फैसले के लिए अब सोमवार का इंतजार

कांग्रेस में फूट: पायलट से खफा हुए गहलोत, दे दिया बड़ा बयान

नोएडा: लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस के आपसी कलह सामने आने लगे है। एक तरफ जहां कांग्रेस के विभिन्न राज्यों के अध्यक्ष हार की जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा दे रहे है तो वहीं राजस्थान से कांग्रेस के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजस्थान में हार का ठिकरा सचिन पायलट पर फोड़ा है। एक निजी चैनल से बातचीत में गहलोत ने कहा कि सचिन पायलट को कम से कम जोधपुर में हुई हार की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा, ''पायलट साहेब ने कहा था कि मेरा बेटा वैभव जोधपुर से बड़े अंतर से जीतेगा। इस लोकसभा क्षेत्र में हमारे छह विधायक हैं और हमारा चुनावी प्रचार वहां शानदार था। इसलिए मुझे लगता है कि पायलट को कम से कम इस सीट की जिम्मेदारी लेनी चाहिए। जोधपुर सीट का पूरा पोस्टमॉर्टम किया जाना चाहिए कि आखिर हम वहां जीते क्यों नहीं?''

अशोक गहलोत ने कहा, ''पायलट ने कहा था कि हम जोधपुर जीत जीत रहे हैं। इसलिए वैभव को पार्टी से टिकट मिला। हम 25 की 25 सीटें हार गए। अगर कोई कहता है कि मुख्यमंत्री या पीसीसी प्रमुख को जिम्मेदारी लेनी चाहिए तो मेरा मानना है कि ये सबकी जिम्मेदारी है।''

आपको बता दें कि जोधपुर सीट से अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत चुनाव लड़ रहे थे। जिसमें वैभव को बीजेपी के नेता गजेंद्र सिंह शेखावत ने 2.7 लाख वोट से हराया। वहीं जोधपुर सीट को लेकर किये गये रैली को लेकर ही कांग्रेस अलाकमान ने शेखावत को जमकर फटकार लगाई थी। जिसका कारण 136 रैलियों में से 93 रैलियों का जोधपुर में होना था। लेकिन शेखावत की यह रैली भी कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई। बता दें कि अशोक गहलोत राजस्थान के मुख्यमंत्री हैं जबकि सचिन पायलट उप-मुख्यमंत्री के साथ-साथ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पर भी आसिन हैं।

हालांकि सचिन ने गहलोत के इस बयान पर कोई जवाब नहीं दिया है।

loading...