Breaking News
  • टेररिस्तान, आतंक के लिए करता है अपनी सरजमीं का इस्तेमाल- भारत
  • पाकिस्तानी आतंकवाद पर भारत ने UNGA में दिया करारा जवाब कहा
  • पाकिस्तान ने पहली बार कुबूले घुसपैठियों के शव
  • पीएम नरेंद्र मोदी दो दिनों के वाराणसी दौरे पर
  • कोलकाता वनडे: भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 50 रनों से हराया, 2-0 से आगे

धर्म की आड़ में चल रहा था किडनी रैकेट, सरकार ने दिए जांच के आदेश

देहरादून: उत्तराखंड में सोमवार को एक धर्मार्थ अस्पताल में किडनी रैकेट का भांडा फोड़ होने के बाद अब राज्य सरकार ने इसकी उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। वहीँ अभी तक इस मामले में कई लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

उत्तराखंड की पावन धरती को एकबार फिर पाखंडियों ने कलंकित किया है। यहाँ धर्म और पाखंड की आड़ में बड़े पैमाने पर किडनी रैकेट चलाया जा रहा था। जिसका सोमवार को खुलासा होने के बाद सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं। इस रैकेट का खुलासा सोमवार को हरिद्वार की सप्तऋषि पुलिस ने किया था। पुलिस ने यहाँ के अस्पताल में जांच कराने आई दो महिलाओं से पूछताछ की तो पूरा मामला साफ़ होते चला गया। साथ ही पुलिस को यह समझने में देर नहीं लगी कि यहाँ धर्मार्थ की आड़ में बड़े पैमाने पर किडनी रैकेट चलाया जा रहा था।

वहीँ मामले का खुलासा होने के बाद पुलिस ने गंगोत्री चैरिटेबल अस्पताल के कर्मचारियों सहित 15 अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में 2 लोगों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है।

रेयान मालिकों को बॉम्बे हाईकोर्ट ने दिया झटका, होगी गिरफ्तारी!

Ryan स्कूल की मालकिन का मोदी कनेक्शन क्या है ?

यहाँ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निवेदिता कुकरेती ने बताया कि खुलासा होने के बाद अस्पताल को सील कर दिया गया है। साथ ही पुलिस उन चार विदेशी नागरिकों को खोज रही है। जो किडनी प्रत्यारोपण कराने यहाँ आये हुए थे। हालाँकि अभी चारो पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। पुलिस ने उन चारो को लेकर देश के सभी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डों को सूचित कर दिया है। इसके साथ ही खुलासा हुआ है कि यहाँ धर्म की आड़ में गरीब लोगों की किडनी निकाल कर ऊँचे दामों में बेची जाती थी।

यह भी देखें-  

loading...