Breaking News
  • काबूल: PD6 इलाके में डिप्टी सीईओ के घर के पास कार धमाका, 10 लोगों के मारे जाने की खबर
  • सावन का तीसरा सोमवार आज, शिवालयों में भक्तों की लंबी कतार
  • आज शाम 7.30 बजे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का संबंधोन
  • इसरो के पूर्व प्रमुख प्रोफेसर यूआर राव का निधन- पीएम मोदी ने जताया दुख
  • महिला विश्व कप 2017: फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने भारतीय टीम को 9 रनों से हराया

महिलाओं का अपमान और ममता के घर में आग- बुरे फंसे भाजपा के दो दिग्गज !


कोलकाता: केंद्र की सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी से राज्यसभा सदस्य रूपा गांगुली के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार गांगुली के खिलाफ पश्चिम बंगाल सरकार के खिलाफ बयानों को लेकर दर्ज किया गया है। तो वहीं पुलिस ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष के खिलाफ भी जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के अनुसार महिलाओं की सुरक्षा को लेकर दिए गए विवादित बयान पर  रूपा गांगुली के खिलाफ बैरकपुर पुलिस आयुक्त कार्यालय के अंतर्गत निमता थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। गांगुली के खिलाफ यह मुकदमा 14 जुलाई को दर्ज किया गया था। जिसके बाद अब मामले की जांच की जा रही है।

तो वहीं भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष के खिलाफ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास को फूंकने की धमकी दिए जाने के मामले को लेकर जांच की जा रही है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बंगाल में हिंसा के दौरान दिलीप घोष ने कथित तौर पर कहा था कि अगर पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने का प्रयास करती है तो मुख्यमंत्री आवास में आग लगा देंगे।

पुलिस के अनुसार मुख्यमंत्री आवास में आग लगाने के मामले को लेकर तृणमूल कांग्रेस के एक नेता ने खड़गपुर शिकायत दर्ज की थी। आरोप के अनुसार दिलीप घोष ने खड़गपुर के पास एक रैली को संबोधित करते हुए यह बयान दिया था।

आपको बता दें कि पिछले दिनों बंगाल में जारी हिंसा पर प्रतिक्रिया देते हुए रूपा गांगुली ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कांग्रेस पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि टीएमसी और कांग्रेस के नेता अपनी पत्नी और बेटियों को 15 दिन के लिए बंगाल भेजकर देखें कि वो रेप से बच जाती हैं क्या?

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार रूपा ने कहा था कि अगर वो बंगाल में 15 दिन रहकर रेप से बच जाती हैं, तो वे अपना बयान वापस ले लेंगी, इसके बाद एक और बयान में उन्होंने कहा कि ये भी मैंने ज्यादा बोल दिया है। लेकिन इसके बाद गांगुली की बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए टीएमसी नेता और मंत्री शिवन देव चटर्जी ने रूपा गांगुली से सवाल करते हुए एक और विवादित बयान दे दिया।

शिवन देव चटर्जी ने रूपा गांगुली से पूछा कि बंगाल में रहते हुए उनका कितनी बार रेप हुआ? उन्होंने कहा कि अपनी मातृभूमि को लेकर गांगुली ऐसा कैसे बोल सकती है। उन्होंने कहा कि रूपा गांगुली के लिए यह पब्लिसिटी पाने का सबसे सस्ता तरीका है।

loading...