Breaking News
  • जम्‍मू-कश्‍मीर: कुपवाड़ा के तंगधार में आतंकियों से मुठभेड़ में एक जवान शहीद
  • प्लास्टिक से बने तिरंगे का इस्तेमाल न करें- गृह मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी
  • हम विकास की सोचते हैं चुनाव की नहीं: पीएम मोदी

इस महिला पुलिस ने किया हैरतअंगेज कारनामा, हर कोई कर रहा है तारीफ

बेंगलुरु:- ‘जाको राखे साइयां, मार सके न कोई’, ये कहावत  इस खबर पर एकदम सटीक बैठता है। जी हां बेंगलुरु पुलिस में मौजूद एक महिला कॉन्स्टेबल ने एक ऐसा कारनामा कर दिखाया, जिसे सुनकर हर कोई उन्हे सलाम कर रहा है।

दरअसल, शुक्रवार को बेंगलुरु पुलिस को खंडहर बिल्डिंग से नवजात बच्चे को बरामद किया था जो कि जिंदगी के जंग लड़ रहा था। डॉक्टरों के मुताबिक बच्चे का जन्म कुछ घंटे पहले ही हुआ था और उसके परिवार वाले एक विरान जगह पर बच्चे को छोड़कर फरार हो गए थे।

मलाइका की वजह से सट्टेबाजी में फंसे अरबाज खान?

पुलिस बच्चे को लेकर फौरन अस्पताल पहुंची है। लेकिन बच्चा ना ही रो रहा था, ना ही कोई हरकत कर रहा था, वो बेजान सुस्त बेड़ पर पड़ा हुआ था। डॉक्टर भी कुछ कर नहीं पा रहे थे, तभी बेंगलुरु पुलिस की कॉन्स्टेबल अर्चना ने बच्चे को अपने हाथो में लिया और अपनी छाती से लिपटाकर उसे अपना दूध पिलाने लगी। दूध पीने के बाद बच्चा रोने लगा और इस मंजर को देखकर वहां मौजूद हर किसी की आंखे भर आई। हर कोई अर्चना के इस फैसले को सराहा रहा है।

आपको बता दें, हाल ही में अर्चना ने भी एक बच्चे को जन्म दिया है। उन्होंने 15 दिन पहले ही नौकरी को ज्वाइन किया था। फिलहाल बच्चे की हालत में सुधार है और पुलिस उसके मां बाप को तलाशने में जुटी हुई है।

जब दुकानों में मिलने लगी थी सानिया मिर्जा कि ब्लू फिल्म...

वहीं बेंगलुरू पुलिस ने भी इस पूरे मामले को अपने ट्वीटर अकाउंट पर शेयर किया और अर्चना को अपना हिरो बताया है।

loading...