Breaking News
  • महाराष्ट्र : दो हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव, अब तक 2095 संक्रमित
  • खराब मौसम के कारण नासा ने स्थगित किया ह्यूमन स्पेस मिशन, 2.03 बजे होना था लॉन्च
  • सोनिया गांधी का केंद्र सरकार से आग्रह, खजाने का ताला खोलिए और जरूरत मंदों को राहत दीजिये
  • जम्मू कश्मीर : पुलवामा ब्लास्ट-2 नाकाम, एनआईए करेगा जांच
  • मध्य प्रदेश में होम क्वारनटीन के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर लगेगा 2 हजार रुपये का जुर्माना

छत्तीसगढ़ सरकार का बड़ा फैसला, दन्तेवाड़ा में पहाड़ बचाने के लिए नहीं होगी वनो की कटाई

नोएडा : एक तरफ जहां बड़े-बड़े इमारतों और सड़कों को लेकर घने-घने वृक्षों को काटा जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ छत्तिसगढ़ सरकार ने एक ऐसा बड़ा कदम उठाया है जो बहुत ही सराहनीय है। उनका यह कदम शायद पूरे भारत और राज्य सरकारों के लिए एक बड़ा मिसाल पेश करता है। आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ में कल कारखाने एवं उद्दोग स्थापना के लिए लगातार पहाड़ो को काटा जा रहा था, जिसके विरोध में आदिवासियों ने महाआंदोलन शुरू कर दिया था। आंदोलन में हजारों आदिवासी मौजूद हैं। संभाग भर से आदिवासी जंगलों से निकलकर अपने परिवार सहित मीलों पैदल यात्रा कर इस आंदोलन में शामिल हुए हैं।

जिससे विवश होकर अंत में राज्य सरकार को उन कारखानों के निर्माण पर रोक लगाना पड़ा। बता दें कि जिस पहाड़ पर वृक्ष कटाई की रोक भूपेश बघेल सरकार ने लगाई है। उस पहाड़ी को आदिवासी नंदराज पर्वत के रूप में पूजा करते है, जिसे वे अपना देवता मानते हैं। अब सरकार के इस फैसले के बाद फिलहाल जो काम चल रहा है उस पर रोक लग जाएगी।

इसके अलावा बघेल सरकार ने कहा है कि साल 2014 के फर्जी ग्राम सभा के आरोप की जांच कराई जाएगी। इसके साथ ही क्षेत्र में संचालित कार्यो पर तत्काल रोक लगाई जायेगी। जिसे लेकर राज्य सरकार, भारत सरकार को एक एक पत्र लिखकर जन भावनाओं से संबंधित जानकारी देगी।

loading...