Breaking News
  • जम्‍मू-कश्‍मीर: कुपवाड़ा के तंगधार में आतंकियों से मुठभेड़ में एक जवान शहीद
  • प्लास्टिक से बने तिरंगे का इस्तेमाल न करें- गृह मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी
  • हम विकास की सोचते हैं चुनाव की नहीं: पीएम मोदी

विरोधियों की होश उड़ा सकती हैं BJP सीएम की बेटी डॉक्‍टर अस्‍मिता!

नई दिल्ली: वैसे तो केंद्र की सत्ताधारी भारतीय जनता के पार्टी के प्रमुख समेत पार्टी लगभग सभी नेता राजनीति में वंशवाद को लेकर कांग्रेस पार्टी पर गांभीर आरोप मढ़ते हुए अपने आप को धुर विरोधी मानते हैं! लेकिन समय-समय पर ऐसी खबरे आती रही है जो बीजेपी के इन दावों को झूठा साबित करती है।

दरअसल, वशंवाद का सीधा मतलब है कि अगर किसी के पिता या मता पहले से  राजनीती से जुड़े हैं और उनके औदाल भी राजनीति से जुड़ चुके हैं तो इसे ही वंशवाद करते हैं। अब इसी बात को ध्यान में रखते हुए अपन नजरे दौड़ाइए क्या बीजेपी में कोई ऐसा नेता नहीं हैं जिनके बच्चे राजनीति में नही हैं?

शादी के 14 साल बाद पिता बना यह एक्टर, नाम को लेकर है बड़ा कन्फ्यूजन!

ऐसे में अगर आप ज्यादा विचार विमर्श नहीं करना चाहते तो थोड़ा इंतजार करिए, इसका एक नया उदाहरण आपके सामने आने वाला है। हालांकि हम ये नहीं कह रहे कि नेता के बच्चे राजनीति में नहीं जा सकते, उन्हें भी इस बात की पूरी आजादी है कि वे अपने करियर का चुनाम अपने तरीके से करें।

इस स्टार खिलाड़ी की बहन है मैच और धोनी साथ दिखने वाली यह लड़की!

लेकिन जब इस तरह के मुद्दों को राजनीतिक रंग दिए जाते हैं तो ऐसे सवाल उठने लाजमी है। वैसे यहां आपको बता दें कि बीजेपी शासित राज्य छत्‍तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है। ऐसे में यहां भी चुनावी चर्चा जोर पकड़ रही है। इस बीच मीडिया रिपोर्ट के अनुसार खबर है कि जल्द ही छत्तीसगढ़ के सीएम डॉक्‍टर रमन सिंह की बेटी राजनीति में एंट्री करने वाली हैं।

राहुल गांधी की 'मां' पर पीएम नरेंद्र मोदी ने कर दी यह टिप्पणी?

आपको बता दें कि सीएम की बेटी डॉक्‍टर अस्‍मिता को लेकर इस चर्चा के पीछे बी एक बड़ा कारण है। बताया जाता है कि राजधानी रायपुर में महाराणा प्रताप जयंती के मौके पर राजपूत समाज शक्ति प्रदर्शन की तैयौरियों में लगे हैं और इस कार्यक्रम की कमान अस्मिता सिंह ने अपने हाथों में ले लिया है।

ऐसे में चुनावी साल या चुनाव से पहले अस्मिता द्वार ऐसे कार्यक्रमों में सक्रिय होने की बाते कई दिशा की ओर इशारा करती है, जिन्में से एक यह भी है कि शायद वह राजनीति में छलांग लगाना चाहती हैं, लिहाजा वह अपनी राजनीतिक जमीन तैयार करने में लगी हैं। हालांकि अस्मिता ने फिलहाल इन बातों का खंडन किया है।

loading...