Breaking News
  • फ्रांस: सूटवेल ऐथलेटिक्स मीट में भारत के भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा ने जीता गोल्ड
  • संसद का मानसून सत्र आज से होगा शुरू, 10 अगस्त तक चलने वाले सत्र में 18 बैठकें
  • ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी में 2 इमारतें गिरी- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जांच के दिए आदेश

आखिर कब सुधरेंगे यह नेता: रेप पर बीजेपी सांसद का विवादित बयान

भोपाल: देशभर में महिलाओं के प्रति बढ़े अपराधों पर बलात्कार की घटनाओं पर जहाँ लोगों में गुस्सा बढ़ा हुआ है। वहीँ देश और राज्य की सरकारें इन घटनाओं पर जिम्मेदारी से बचते हुए इसके लिए किसी और को ही जिम्मेदार मान रही हैं। ऐसे ही एक बीजेपी नेता ने रेप को लेकर विवादित बयान दिया है।

बतादें कि मध्य प्रदेश में पिछले कुछ दिनों से सिलसिलेवार तरीके से रेप की घटनाएँ सामने आ रही है। जिससे लोगों में गुस्सा भरा हुआ है। सरकार के खिलाफ लोग विरोध जता रहे हैं। इसी बीच बीजेपी नेता और सांसद नंदकुमार चौहान देश भर में हगो रही रेप की घटनाओं पर विवादित बयान देकर नये मामले को जन्म दे दिया है। सरकारों की लापरवाही, और महिलओं के प्रति सुरक्षा देने में नाकाम रही तो रेप की वारदातों से ही पल्ला झाड लिया। मीडिया में जारी एक बयान के मुताबिक़ बीजेपी सांसद नंदकुमार चौहान ने रेप की बढी घटनाओं पर विवादित बयान देते हुए कहा है कि, इंटरनेट और स्मार्टफोन का चलन बढऩे के चलते रेप की वारदातें बढ़ रही हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं समझता हूं युवाओं तक स्मार्टफोन और इंटरनेट की पहुंच आसान हो गई है।

वे इसपर आपत्तिजनक कंटेंट देखते हैं। ये उनके अबोध मन पर नकारात्मक प्रभाव डालते हैं। मीडिया को इन सारे पहलुओं को भी कवर करना चाहिए।’ इन्टरनेट और स्मार्टफोन रेप के लिए जिम्मेदार बताते हुए सांसद के बयान के बाद लोगों में गुस्सा फूटा हुआ है। जहाँ अभी मध्य प्रदेश के मंदसौर का मामला ठंडा भी नहीं पड़ा है कि बीजेपी नेता के विवादित बोल ने आग में घी डालने का काम करना शुरू कर दिया है।

वहीँ इन्टरनेट पर मौजूद आपत्तिजनक कंटेंट को हटाने के लिए पूछे गये सवाल पर भी निरक्षरों वाला जवाब देते हुए अपनी सरकार का बचाव करते दिखे। उन्होंने कहा कि हर मोबाइल से आपत्तिजनक कंटेंट को हटा पाना मुश्किल है। लेकिन सांसद महोदय को यह नहीं पता है कि आपत्तिजनक साईट और मौजूद कंटेंट हटाने का काम सरकार ही कर सकती है। पिछले कुछ समय पहले ही भारत सरकार ने हजारों साईट को बैन कर दिया था।    

यह भी देखें-

loading...