Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

राजस्थान में ‘बीजेपी के भगवान’ का अपमान, ... की बर्बरता

नोएडा : कितना अच्छा लगाता है जब भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सबका साथ सबका विकास के बाद सबका विश्वास जीतने का दावा करते हैं। लेकिन भारत की विकास गाथा उस वक्त सवालों के घेरे में आ जाती है जब कुछ असामाजिक तत्व देश की विभूतियों की गरीमा पर प्रहार कर जाते है।

ताजा घटना राजस्थान के भीलवाड़ा के शाहपुरा से है। जहां जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा खंडित कर दी गई। श्यामा प्रसाद मुखर्जी महज एक नाम नहीं बल्कि केंद्र की सत्ताधारी भाजापा उन्हें भगवान का दर्जा देती है। लिहाजा उनके प्रतिमा के साथ घटी घटना ने पुलिस महकमे में भी हड़कंप मचा दी।

पुलिस की फूर्ती का अंदाजा आप ऐसे लगा सकते हैं कि मामले की शिकायत मिलते ही अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली गई। पुलिस कहती है शाहपुरा के उम्मेदसागर चौराहे पर लगी मुखर्जी की आवक्ष प्रतिमा रविवार रात खंडित कर दी गई। जिसकी जांच के लिए पांच टीमें बनाई गई।

हालांकि श्यामा प्रसाद मुखर्जी ऐसे पहले महापुरुष नहीं हैं, जिनकी प्रतिमा के साथ भद्दा मजाक किया गया है, बल्कि इससे पहले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा से चश्मा उतारने की बात हो या आयरन लेडी इंदिरा गांधी को बुर्का पहनाने की घटना, सब इसी हिंदुस्तान में घटी है। जो भारत के सद्भाव के लिए खतरे की घंटी बाजाता है।

loading...