Breaking News
  • नंदा देवी शिखर के पास ITBP को 7 पर्वतारोहियों के शव मिले
  • हार के बाद अखिलेश-मुलायम पर भड़की मायावती
  • BMC ने CM देवेंद्र फडणवीस के बंगले को घोषित किया डिफॉल्टर
  • संसद के दोनों सदनों में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव आज
  • बांग्लादेश में ट्रेन हादसे में 4 की मौत, 150 से ज्यादा घायल

‘डायमंड हार्बर’ रैली को लेकर बनर्जी ने भेजा मोदी को नोटिस, 36 घंटे के भीतर...

पश्चिम बंगाल : लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण को लेकर तमाम पार्टियों ने दिन रात एक कर मतदाताओं को लुभाने की कोशिश की। जिसका फैसला आज यानी 19 मई रविवार को होने वाला है। जिसे लेकर मतदान भी शुरू हो चुके है। बंगाल में अभी तक तकरीबन 15 प्रतिशत वोटिंग हो चुकी है। आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल में पहले चरण के चुनाव से लेकर आखिरी चरण के चुनाव तक जमकर हिंसा की खबरें सामने आई है। जिस पर न राज्य सरकार अंकुश लगा पा रही है और न चुनाव आयोग। हालांकि इस चुनावी हिंसा के बीच वोटरों का उत्साह कम नहीं हुआ। वोटरों ने जमकर वोटिंग की।

और रहीं बात अभिषेक बनर्जी के नोटिस की तो बता दें कि पश्चिम बंगाल के आखिरी चरण के चुनाव से पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रैली के दौरान हिंसा को लेकर पीएम मोदी ने डायमंड हार्बर में जनसभा के दौरान ममता सरकार पर जमकर हमला किया। उन्होंने कहा था कि बंगाल के लोगों के लिए बुआ-भतीजे के प्रताड़ित करने का समय खत्म हो गया है। ये दोनों मिलकर बंगाल में डेमोक्रेसी को गुंडाक्रेसी में बदल दिया है। टीएमसी के गुंडों ने यहां रहने वाले लोगों की हालत खराब कर दी है। लेकिन अब गुंडाक्रेसी के दिन खत्म होने वाले हैं।

पीएम के इसी बयान को लेकर ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी पीएम मोदी के खिलाफ मानहानि का नोटिस भेजा है। साथ ही चुनाव आयोग से इस सीट पर पुनः मतदान कराने की मांग कर रहें है। वहीं ममता बनर्जी ने नरेंद्र मोदी से अगले 36 घंटे के भीतर बिना शर्त माफी मांगने की बात कही है। सूत्रों की मानें तो पीएम मोदी ने अभी इन बातों पर किसी तरह का जवाब नहीं दिया है।  

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान पश्चिम बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं और नेताओं द्वारा जमकर हमला किया गया है। वहीं टीएमसी ने भी बीजेपी पर हमले करने का आरोप लगाया है। लेकिन अभी तक आयोग या प्रशासन की तरफ से इस बात की पुष्टि नहीं की जा सकीं है इस तरह के लगातार हिंसात्मक घटनाओं का जिम्मेवार कौन है। राज्य सरकार द्वारा इस हिंसा पर लगातार कुछ न बोलना यह इशारा उनकी तरफ करता है। हालांकि इन घटनाओं का जिम्मेदार कौन हैं वो तो जांच करने के बाद ही पता चलेगा।

loading...