Breaking News
  • सोनभद्र जाने पर अड़ी प्रियंका गांधी, धरने का दूसरा दिन
  • असम और बिहार में बाढ़ से 150 लोगों की गई जान, 1 करोड़ से अधिक लोग प्रभावित
  • इलाहाबाद हाइकोर्ट ने पीएम मोदी को जारी किया नोटिस, 21 अगस्त को सुनवाई
  • कर्नाटक पर फैसले के लिए अब सोमवार का इंतजार

बैटमैन से गांधीवादी बने विजयवर्गीय के लल्ला, लेकिन समर्थकों ने फिर कर दी दनादन

इंदौर: बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का लल्ला नेतागिरी का इम्तिहान पास कर के आया है, इतना जश्न तो बनता ही है। नगर निगम अधिकारी को बैट से पीटने वाले आकाश विजयवर्गीय को जब जेल से छुट्टी मिली तो, यह दिन उनके समर्थकों के लिए किसी बड़े त्योहार के सामन था, जिसका जश्न सबने मिलकर लूटा। जेल के बाहर आकाश की राह देख रहे उनके समर्थकों ने पहले तो फूल-माला पहनाकर अपने बैटबाज नेता का जोरदार स्वागत किया, और फिर उड़ा दी कानून की धज्जियां।

ये नजारा न तो चुनाव में मीली जीत का है और न ही विरोधी की हार का, बल्कि ये जश्न आकाश विजयवर्गीय को मिली जमानत का है। जेल से बाहर आने के बाद आकाशा ने गांधीवादी तरीके से काम करने की बात कही, लेकिन उनके समर्थक अब भी आकाश के पहली लाइन पर ही कायम हैं। बल्ले से अधिकारी की पिटाई करने के बाद आकाश ने कहा था कि हमारी लाइन आवेदन, निवेदन और फिर दनादन है। तो फिर उनके समर्थकों के जश्न में गोलीबारी से हैरानी कैसी।

भले ही सभ्य समज को इस तरह की घटनाएं नापसंद हो, भले ही कानूनी किताब में यू सरेराह फायरिंग करना अपराध माना जाए, लेकिन जो आकाश सरकारी अधिकारी की सरेआम बल्ले के कुटाई करने से बाज नहीं आते, उनके समर्थकों के लिए हवा में फायरिंग करना कोई बड़ी बात कैसे हो सकती है, ये तो उनके शान में चार चांद लगाने जैसा है। बता दें कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो आकाश के दफ्तर के बाहर का बताया जाता है। जहां आकाश को जमानत मिलने की खुशी में  जश्न मनाते पार्टी कार्यकर्ताओं ने कई राउंड फायरिंग की।

आपको बता दें कि बीते बुधवार को इंदौर नगर निगम के अधिकारी शासन के आदेश पर गंजी कंपाउंड इलाके में जर्जर हो चुके मकान तोड़ने पहुंचे थे। अधिकारियों को इस बात की चिंता सता रही थी कही बारिश में कोई अप्रिय घटना न घटे। लेकिन अधिकारियों की ये बात सत्ता के नशे में चुर आकाश को नागवार गुजरी और विरोध स्वरूप सरकार अधिकारी को क्रिकेट बैट से पिट दिया। 

loading...