Breaking News
  • दिल्लीः पूर्व भाजपा अध्यक्ष मांगेराम गर्ग का निधन
  • पूर्व मुख्यमंत्री और दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित का दिल्ली में अंतिम संस्कार
  • महेंद्र सिंह धोनी ने वापस लिया वेस्टइंडीज़ दौरे से नाम
  • भारतीय एथलीट हिमा दास ने 400 मीटर रेस में मारी बाजी, एक महीने में 5वां गोल्ड मेडल

RBI ने किया ऐसा ऐलान, शेयर बाजार में भूकंप तो रुपये के नाम एक और रिकॉर्ड

नई दिल्ली: देश की आर्थिक स्थिती को करीब से समझने वाले अधिकांश विश्लेषकों लग रहा है था कि मौजूदा हालत को देखते हुए शुक्रवार को भारतीय रिजर्व बैंक नीतिगत दरों में कम से कम 0.25 प्रतिशत की वृद्धि करेगा। लेकिन रिजर्व बैंक की नीतियों के सामने जानकारों की एक नहीं चली।

दरअसल, भारतीय रिजर्व बैंक ने द्वैमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक में शुक्रवार को नीतिगत दरों कोई बदलाव नहीं करने का फैसला लिया है। हालांकि बैंक ने नीतिगत रुख में बदलाव करते हुए थोड़ा बेहतर करने का फैसला किया है। ये जानकारी रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति की तीन दिन की बैठक के बाद दी गई है।

योगी सरकार के हाथ से निकल गई पुलिस, देखिए बेलगाम पुलिस वालों की बेशर्मी!

बैंक की ओर से समिति ने मजबूती से मुख्य या खुदरा मुद्रास्फीति के मध्यम अवधि लक्ष्य को चार प्रतिशत के दायरे में रखने की प्रतिबद्धता दोहई है। बैठक के बाद जो जानकारी दी गई उसके अनुसार बिना किसी बदलाव के रेपो दर को 6.5 फीसदी पर बरकरार है जहित रिवर्स रेपो दर 6.25 प्रतिशत पर बनी रहेगी और मार्जिनल स्टैंडिंग फैसिलिटी दर और बैंक दर 6.75 फीसदी पर ही रहेगी।

मोदी-पुतिन के बीच हो गई ‘बड़ी डील’, मुंह ताकते रह गए अमेरिका समेत अन्य…

आपको बता दें कि केंद्रीय बैंक के इस फैसले के बाद भारती शेयर बाजाको बड़ा झटका लगा है। बैंक द्वारा ऐलान के कुछ बाद ही सेंसेक्स में 839 अंक की गिरावट और निफ्टी में 290 अंक से भी अधिक की गिरावट दिखी। इस क्रम में सेंसेक्स फिलहाल 34,276.44 के स्तर पर कारोबार कर रहा है जबकि निफ्टी 297.55 अंकों की गिरावट के सथ 10,301.70 पर है और इसी दौरान भारतिय रुपये ने भी एक डॉलर के मुकाबले 74 रुपये के स्तर को पार कर लिया है। फिलहा एक डॉलर की कीमत 74.10 रुपया है।

‘रुपये की कीमत टूट नहीं रही बल्कि टूट चुकी है, खामोश क्यों हैं 56 इंच …

loading...