Breaking News
  • अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो आज करेंगे पीएम मोदी और एस. जयशंकर से मुलाकात
  • WC 2019 : इंग्लैंड को 64 रनों से हराकर सेमीफाइनल में पहुंचा ऑस्ट्रलिया
  • WC 2019 : बर्मिंघम के मैदान पर आज भिड़ेंगे न्यूजीलैंड और पाक
  • राज्यसभा में 26 जून को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर जवाब देंगे पीएम मोदी
  • केंद्रीय गृहमंत्री शाह 26 जून को जाएंगे श्रीनगर, कल करेंगे बाबा बर्फानी के दर्शन

मोदी के लहर में सेंसेक्स की जबरदस्त उछाल, रिकॉर्ड उंचाईयों के साथ ...हजार के पार

नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव 2019 के चुनाव परिणाम आने के साथ ही सेसेंक्स भी अपने जबरदस्त उछाल के साथ रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है। जिससे एक बार फिर सेंसेक्स झूमने को मजबूर हो गया है। इससे पहले 2014 में भी सेंसेक्स ने जबरदस्त उछाल मारी थी। लेकिन बिक के कारण यह उछाल ज्यादा देर तक नहीं रह सका। यहां बिक का अर्थ अपने शेयर को भुनाने से है। सेंसेक्स जहां इस रूझान के साथ 40 हजार के पार कर गया वहीं निफ्टी भी 12 हजार के आस-पास है। आपको बता दें कि यह कारोबार 1 घंटे में 1 हजार के स्तर पर पहुंच गया है।

सेंसेक्‍स प्रातः 10.45 बजे 40 हजार 100 अंक से ज्‍यादा के स्‍तर पर पहुंच गया। आज के कारोबार में बाजार में चौतरफा खरीददारी दिख रही है। इसके साथ ही बैंक, फाइनेंशियल और मेटल के अलावा सभी इंडेक्स बढ़त के साथ कारोबार कर रहे हैं।

मार्केट विशेषज्ञों का कहना है कि मोदी सरकार की वापसी के संकेतों से निवेशकों में पॉजिटिव सेंटीमेंट बना है। मोदी सरकार की वापसी की वजह से निवेशकों को आर्थिक सुधार में तेजी की आशा है। हालांकि रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने के बाद बिकवाली का भी डर है। कहने का अर्थ यह है कि निवेशक बढ़त को भुनाने के लिए शेयर बेच सकते हैं। ऐसे में इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि सेंसेक्‍स आखिरी घंटों में बिखड़ सकता है।

इससे पहले शेयर बाजार के प्रारंभ में सेंसेक्‍स 500 अंक के करीब बढ़त के साथ कारोबार करता दिखा तो वहीं निफ्टी 150 अंक से ज्‍यादा मजबूत हुआ।

शुरुआती 15 मिनटों में  सेंसेक्‍स कारोबार के 800 अंक से ज्‍यादा की रिकॉर्ड तेजी के बाद 39850 के स्‍तर को पार कर गया है। इससे पहले 21 मई को एग्जिट पोल नतीजों के कारण सेंसेक्‍स 39571 के ऑल टाइम हाई लेवल पर था।

वहीं निफ्टी की बात करें तो 200 अंक मजबूत होकर 11,930 के लेवल को पार कर गया। इस बात की उम्‍मीद की जा रही है कि निफ्टी 12 हजार के जादुई आंकड़े को छू सकती है। शुरुआती बिजनेस में इंडस्‍इंड बैंक के शेयर में करीब 7 फीसदी से अधिक बढ़त दर्ज की गई। वहीं SBI 5 फीसदी और एलएंडटी के शेयर 3 फीसदी से अधिक बढ़त के साथ कारोबार करते देखे गए। नुकसान वाले शेयर की बात करें तो वेदांता, टाटा मोटर्स और ओएनजीसी में मामूली गिरावट आई है।

आपको बता दें कि बीते रविवार को एग्जिट पोल के नतीजे आए थे। इनमें मोदी सरकार की वापसी की उम्‍मीद जताई गई थी। जिसके बाद सोमवार को सेंसेक्‍स 1421 की बढ़त के साथ 39,352 के लेवल पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 421 अंक मजबूत होकर 11,828 के लेवल पर रहा। निफ्टी में यह एक दिन में अंकों के हिसाब से दूसरी सबसे बड़ी तेजी है। वहीं सेंसेक्‍स 10 साल के सबसे उच्‍चतम स्‍तर की बढ़त पर बंद हुआ था।

अगर 2014 के चुनावी नतीजों वाले दिन की बात करें तो शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 1,470 अंकों की जबरदस्त उछाल के साथ 25,375 के लेवल पर पहुंच गया था। हालांकि, बाद में बिकवाली की वजह से बाजार की चाल धीमी पड़ गई और सेंसेक्स 23,873.16 के लेवल पर आ गया।

loading...