Breaking News
  • जम्मू-कश्मीर के पूछ में पाक सेना ने किया युद्ध विराम का उल्लंघन, भारतीय सेना दे रही है मुंहतोड़ जवाब
  • देश भर में धूम-धाम से मनाया गया 71वां स्वतंत्रता दिवस और जन्माष्टमी का त्योहार
  • महाराष्ट्र में दही-हाथी संबंधित घटनाओं में दो मृत, 197 घायल
  • हिमाचल प्रदेश के चंबा में 3.5 की भूकंप के झटके

यह 500 का नया नोट है विवादों में!

नई दिल्ली: आरबीआई द्वारा 500 के दो तरह के नोटों की छपाई को लेकर मंगलावर को राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा कि इससे लोगों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। वही इस दौरान कांग्रेस को कई विपक्षी दलों का साथ भी मिला।

नोटबंदी के बाद देश में 500 और हजार के नये नोट आने के बाद एक बार फिर से आरबीआई 500 नया डिज़ाइन किया हुआ नोट ला रही है। आरबीआई के इस नये नोट के आने से पहले ही इस पर विवाद शुरू हो गया है। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने आरोप लगाया कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) 500 रुपये के दो तरह के नोट छाप रहा है। सिब्बल ने एक प्लाकार्ड पर चिपकाए गए दो तरह के नोट दिखाते हुए कहा, "आरबीआई दो तरह के नोटों की छपाई कर रही है।

कांग्रेस ने कहा कि आखिर आरबीआई को ऐसी क्या जरूरत आ पड़ी है कि वह 500 के नये नोटों को आकार और डिजाइन अलग कर छाप रहा है। वहीँ इस दौरान विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि सरकार पर बड़ा आरोप लगाते हुये कहा कि विमुद्रीकरण 'इस सदी का सबसे बड़ा घोटाला है'। इस दौरान कांग्रेस को तृणमूल कांग्रेस, जेडीयू, समाजवादी पार्टी सहित कई दलों का साथ मिला। वहीँ विपक्ष के हंगामे के कारण राज्यसभा की कार्यवाही 10 मिनट के स्थगित करनी पड़ी, लेकिन जैसे फिर से कार्यवाही शुरू ही फिर से विरोध और हंगामा शुरू हो गया। वहीँ पूरे मामले पर संसदीय मामलों के राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि अगर सदस्य इस मुद्दे पर चर्चा चाहते हैं तो वे इसके लिए नोटिस दे सकते हैं। हालाँकि मंत्री ने आरबीआई के दो तरह के नोट छापे जाने पर कोई जवाब नहीं दिया है।

बतादें कि कुछ ही समय पूर्व एक रिपोर्ट में बताया गया था कि आरबीआई 500 के नये नोटों की छपाई कर रहा है, जो पहले नित के मुकाबले डिजाइन में अलग होगा। आरबीआई आखिर 500 के नोट को अलग तरह से क्यों छाप रहा है, इसका कारण अभी तक नहीं बताया गया है।  

loading...

Subscribe to our Channel