Breaking News
  • बैंक खातों को आधार से जोड़ना अनिवार्य: आरबीआई
  • कट्टरता के खिलाफ भारत मजबूत कार्रवाई कर रहा है: सेना प्रमुख बिपिन रावत
  • कुपवाड़ा में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़
  • विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आज से बांग्लादेश के दो दिवसीय दौरे पर होंगी रवाना

अब 31 दिसंबर तक बेच सकेंगे जीएसटी पूर्व के सामान

नई दिल्ली: जीएसटी लागू होने के बाद पुरानी एमआरपी दर का सामान बेचने के की अंतिम तिथि को बढ़ा दिया गया है। अब 31 दिसम्बर तक पुरानी एमआरपी दर के सामान को बेचा जा सकेगा। इससे पहले इसकी अंतिम तिथि 30 सितम्बर थी।

बतादें कि देश में जीएसटी लागू होने के बाद पुराने एमआरपी के सामान को बेचने की अंतिम तिथि 30 सितम्बर थी, लेकिन अब सरकार ने जीएसटी पूर्व के सामानों की बिक्री की समय सीमा को बढ़ा दिया है। ये सामान नई दर पर स्टिकर के साथ बेचे जाएंगे। इसके पहले यह समय सीमा 30 सितंबर थी। जिसे अब बढ़ाकर 31 दिसंबर कर दी गयी है।

30 सितंबर को विजयादशमी, दशहरा के बारे में ये बाते नहीं जानते होंगे आप...

यह नई समय सीमा उद्योग और खुदरा विक्रेताओं की तरफ से किए गए कई अनुरोधों के बाद तय की गई है। केंद्रीय उपभोक्ता और खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान ने कहा पैकेटबंद सामानों पर उद्योग जीएसटी के बाद के नए एमआरपी वाले स्टीकर लगाकर 31 दिसंबर तक बेच सकता है।

लूट सको तो लूट लो- कार के साथ सोना और भारी डिस्कॉउट…

वहीँ अब इन सामानों की बिक्री को 31 दिसंबर तक बढ़ा दिया गया है। अब 31 दिसंबर के बाद आपको नये स्टीकर का सामान मिलेगा। जीएसटी लागू होने के बाद इसकी 30 सितम्बर तय समय सीमा थी। 

यह भी देखें-

loading...