Breaking News
  • जम्मू-कश्मी: सोपोर में आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, कई इलाकों में मोबाइल और इंटरनेट सेवा बंद
  • सपा-बसपा सरकारों के पास गरीबी को हटाने के लिए कोई एजेंडा नहीं था: सीएम योगी
  • सर्जिकल स्ट्राइक के दो साल पूरे होने पर देश मनाएगा पराक्रम पर्व
  • आज सुबह 9:17 बजे असम की बारपेटा में 4.7 तीव्रता से भूकंप के झटके

काला धन पर बुरी तरह से घिरी मोदी सरकार, वित्त मंत्री का बयान सुन भड़क सकते हैं आप!

नई दिल्ली: साल 2014 में केंद्र की सत्ता में आने से पहले नरेंद्र मोदी और बीजेपी नेताओं ने वादा किया था कि सत्ता में आने के बाद स्विस बैंक में जमा भारत के सारे काले धन को वापस लाएंगे। हालांकि मोदी सरकार को सत्ता में आए चार से अधिक समय हो चुके हैं, लेकिन सरकार अवने वादों पर खरी नहीं उतर रही है। इस बीच एक रिपोर्ट के हवाले से काले धन को लेकर चौकाने वाले दावे किए जा रहे हैं।

दरअसल, रिपोर्ट में स्विस बैंक के ताजा आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा जा रहा है कि साल 2017 में भारतीयों का काला धन 50 फीसदी बढ़कर 7 हजार करोड़ रुपये हो गया है। इस मसले को लेकर केंद्र की मोदी सरकार सवालों के घेरे में है। वहीं विरोधी कांग्रेस के पार्टी के अध्यक्ष पराहुल गांधी समेत कई अन्य पार्टी नेताओं ने काला धन के मामले में मोदी सरकार को विफल करार दिया है।

अब बीजेपी ने जारी किया कांग्रेस पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ का VIDEO

इन सभी मामलों को लेकर सरकार को विवादों में घिरता देख वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने बड़ा बयान देते हुए आश्चर्य जताया और कहा कि स्विस बैंक में जमा सारे पैसे को काला धन कैसे कह सकते हैं। उन्होंने कहा कि आपसी समझौते के तहत भारत स्विट्जरलैंड से बैंक खातों की जानकारी निकाल रहा है, जिन लोगों के पास काला धन पाया जाएगा, उन पर कड़ी कार्रवाई होगी। मंत्री ने इसके अलावा भी काला धन पर कई तरह की बड़ी बाते किए हैं, जिसे आप यहां सुन सकते हैं।

कालाधन पर पीयूष गोयल का बयान

loading...