Breaking News
  • आज देश मना रहा है कि 47वां विजय दिवस
  • यूपी: रायबरेली दौरे पर पीएम मोदी, आधुनिक कोच फैक्ट्रीे का किया निरीक्षण
  • एमएनएफ अध्यक्ष ज़ोरामथंगा बने मिजोरम के नए मुख्यमंत्री

2G घोटाला: राजा-कनिमोझी को दिया अतिरिक्त समय, अक्टूबर में होगी सुनवाई

नई दिल्‍ली: देश के बहुचर्चित 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले के मामले को लेकर सीबीआई ने हाईकोर्ट का रुख किया है। सीबीआई ने दिल्ली हाईकोर्ट में 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में बरी किये गये आरोपितों खिलाफ अपील दायर की है। जिसपर कोर्ट ने पूर्व मंत्री ए राजा और कनिमोई को जवाब दाखिल करने के लिए अतिरिक्त समय दिया है।

बतादें 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में निचली अदालत द्वारा बरी जाने के मामले में सीबीआई ने अब हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। सीबीआई ने 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले मामले में बरी किये जाने के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका लगाते हुए कहा है कि, यह भारी नुकसान और शर्म की बात है। सीबीआई ने कोर्ट द्वारा 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले आरोपितों को बरी किए जाने के फैसले को चुनौती देते हुए हाईकोर्ट की शरण ली है। दिल्ली हाई कोर्ट में अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने जस्टिस एसपी गर्ग की पीठ को बताया कि 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन में सरकारी खजाने को बड़ा नुकसान हुआ। यह केस भारी नुकसान और शर्म का है।

अब नोट पर लिखा तो खैर नहीं: होगी जेल और पांच हजार का जुर्माना

वहीँ सीबीआई की अपील पर कोर्ट ने पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा, और डीएमके सांसद कनिमोझी को जवाब दाखिल करने के लिए कहा है। वहीँ उन्होंने जवाब दाखिल करने में कुछ समय माँगा है। जिस पर कोर्ट ने उन्हें अतरिक्त समय देते हुए मामले की सुनवाई अक्टूबर में करने का फैसला लिया है। मालूम हो कि विशेष अदालत ने पिछले साल 21 दिसंबर को राजा, कनिमोझी तथा अन्य आरोपितों को 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले केसों में बरी कर दिया था।

इतिहास में पहलीबार: राज्यसभा की कार्यवाही से हटाया गया पीएम मोदी का विवादित बयान

साथ ही जानकारी के लिए यह भी बता दें कि इस मामले के सामने आने के बाद तब विपक्ष में रहने वाली बीजेपी ने जमकर इसे भुनाया था और केंद्र की तत्कालीन कांग्रेस गठबन्धन (यूपीए) सरकार को घोटालेबाज सरकार करार दिया था। जबकि पिछले साल इस मामले में कोर्ट ने सभी आरोपितों को बरी कर दिया।

यह भी देखें-

loading...