Breaking News
  • बिहारः मुठभेड़ में खगड़िया के पसराहा थाना अध्यक्ष आशीष कुमार सिंह शहीद
  • J-K: पुलवामा में सुरक्षा बलों ने हिजबुल के एक आतंकी को मार गिराया
  • दिल्ली में आज पेट्रोल की कीमत 82.66 रुपए प्रति लीटर, डीजल 75.19 रुपए प्रति लीटर
  • J-K:स्थानीय निकाय चुनाव के लिए तीसरे चरण की वोटिंग जारी

बिहार में BJP को बड़ी राहत, इस बड़े नेता ने ठुकरा दिया तेजस्वी यादव का ऑफर

पटना: साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले सीट बंटवारे को लेकर NDA खेमे में जबरदस्त हंगामा मचा है, हालांकि NDA में शामिल मुख्य तौर पर भाजपा, जदयू, एलजेपी और रालोसपा के नेता किसी भी तरह के विवाद से इनकार कर रहे हैं, लेकिन मीडिया में आय दिन बदलते घटनाक्रम NDA में विवाद की ओर इशारा करती है।

पिछले दिनों बिहार में अपने आप को सबसे बड़ी पार्टी करार देते हुए नीतीश कुमार की पार्टी जदयू ने अधिक सिटों की ‘डिमांड’ की जिसके बाद रालोसपा प्रमुख और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा की नाराजगी की खबरों के बीच कुशवाहा को आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव से मिले महागठबंधन में शामिल होने के ऑफर ने बेजीपी को और भी परेशान कर दिया।

इन कायदे-कानून को नहीं अपनाया तो भारी पड़ सकता योग करना

लेकिन अब उपेंद्र कुशवाहा ने तेजस्वी यादव के ऑफर को ठुकराते हुए साफ कर दिया है कि वह NDA में खुश है। आपको बता दें कि NDA में कुशवाहा की नाराजगी जैसी खबरों को तब और भी बल मिल गया जब उपेंद्र कुशवाहा की इफ़्तार पार्टी में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय के अलावा एनडीए के अन्य दलों के कोई भी नेता शामिल नहीं हुए।

वहीं NDA में मचे घमासान के बीच तेजस्वी यादव ने कहा कि वह एक बड़े सामाजिक समूह का प्रतिनिधित्व करते हैं लेकिन उस वर्ग से किसी को भी कैबिनेट मंत्री नहीं बनाया गया है, जबकि दूसरी ओर केंद्र सरकार मे एक ही जाति के दर्जन से अधिक कैबिनेट मंत्री हैं। तेजस्वी ने यह भी कहा कि कुशवाहा को चाल सालों से NDA ने नजरअंदाज किया जा रहा है।

इस महिला टीम ने फिर बनाए वनडे मैच में 400 से अधिक रन, 306 रन से मिली जीत

इस लड़की के पास नहीं थे प्राइवेट पार्ट, डॉक्टर्स ने कर दिखाया चमत्कार

loading...