Breaking News
  • आज शाम 6 बजे तक खत्म हो सकता है कर्नाटक का नाटक, कुमारस्वामी करेंगे फ्लोर टेस्ट
  • बिहार के दरभंगा में अभी भी बाढ़ से राहत नहीं, लोगों ने सड़क पर ठिकाना
  • आज होगा ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री का चयन
  • बीजेपी संसदीय दल की बैठक के बाद, पीएम मोदी कर सकते हैं सांसदों को संबोधित

5वीं की छात्रा को प्रिंसिपल ने बनाया गर्भवती- 9 महीने तक करता रहा हैवानियत

पटना: बिहार की राजधानी पटना से बलात्कार का एक हैरान करन देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक निजी स्कूल के प्रिंसिपल पर पांचवी कक्षा के सथ दुष्कर्म करने का आरोप लगा है। हैरानी की बात है कि मामले का खुलासा तब हुआ जब पता चला की पीड़ित छात्रा गर्भवती है। ये जानकारी पीड़ित के परिजनों ने दी है।

जानकारी के अनुसार आरोपी प्रिंसिपल एक अन्य टीचर की मदद से छात्रा के साथ कई महीने से दुष्कर्म कर रहा था। बताया जाता है कि आरोपी किसी न किसी बहाने से छात्रा को अपने पास बुलाता था और उसका बलात्कार करता था। आरोप है कि आरोपियों ने पीड़ीता के साथ दुष्कर्म का वीडियो भी बना लिया।

VIDEO: मुंबई से जयपुर विमान, यात्रियों के नाक और कान से बहने लगा खून

इसी वीडियो को दिख-दिखा कर पीड़िता का मुंह बंद किया गया और उसके लगातार बलात्कार होता रहा है। इस मामले का खुलासा तब हुआ जब पीड़िता बीमार पड़ी और उसके परिजनों ने इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पता चला की पीड़िता गर्भवती है। जिसके बाद पीड़िता छात्रा ने इसके लिए फुलवारी शरीफ के निजी स्कूल न्यू सेंट्रल स्कूल के प्रिंसिपल को जिम्मेदार बताया।

‘तीन तलाक अध्यादेश’ पर राष्ट्रपति ने क्या कहा, देर रात लिया फैसला

पीड़िता के अनुसार, प्रिंसिपल राज सिंघानिया उर्फ अरविंद कुमार ने सहयोगी टीचर अभिषेक के साथ मिल कर पीड़िता का दुष्कर्म किया। इतना ही नहीं आरोपियों ने छात्रा का वीडियो बना लिया और धमकी दी की अगर किसी को बताया तो इसे वायरल कर दिया जाएगा। बताया जाता है कि बीते नौ महीने से छात्रा का दुष्कर्म किया जा रहा था। मामले में पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनु महाराज ने बताया कि पीड़िता की शिकायत पर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और पुलिस मामले की जांच कर रही है।

एशिया कप: भारत ने पाकिस्तान को रौंदा, दर्ज की बड़ी जीत

नोट: ये खबर उन छात्राओं के लिए इशार है जिनके साथ ऐसी घटना घट रही है। मामला चाहे जो भी हो बच्चियों को अपने परिजनों के साथ हर बात साझा करनी चाहिए। ऐसा नहीं करने से आप दरिदों के जाल में फंसती ही चली जाती हैं और कभी-कभी ऐसे जाल से निकने के लिए आप को आपनी जान भी देनी पड़ती है। इसलिए अपने परिजनों से हर बात साझा करें और मिल-बैठ कर इसका हल निकालने का प्रयास कर करें!

loading...