Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

नीतिश शासन में पुलिस की बर्बरता, शिक्षकों पर बरसाई बेरहम लाठियां

नोएडा : गुरुब्रह्मा ग्रुरुविष्णुः गुरुदेवो महेश्वरः । गुरुः साक्षात् परं ब्रह्म तस्मै श्री गुरूवे नमः यानी गुरु का स्थान परमात्मा से भी परम है, लेकिन बदलते भारत और खास कर बदलते बिहार में गुरुओं की ऐसी हालत देखकर शायद परमात्मा परलोक में शर्मिंदगी झेल रहे होंगे।

तस्वीरें बिहार की राजधानी पटना की हैं, जहां सरकार की वादाखिलाफी से नाराज नियमित शिक्षक लंबे समय से प्रदर्शन कर रहे हैं। वेतनमान एवं सेवाशर्त लागू करने समेत सात मांगों को लेकर शिक्षकों और सरकार के बीच तनातनी है। इसी बीच गुरुवार को शिक्षकों का 18 संगठन विधानसभा का घेराव करने पहुंचा।

राजधानी के गर्दनीबाग में विधानसभा का घेराव करने निकले शिक्षकों के लिए उस वक्त सामत आ गई जब उन्होंने पुलिस की खिंची लक्ष्मणरेखा पार कर दी। फिर क्या लाठी-डंडो के साथ पहले से मुस्तैद पुलिस वालों ने बच्चों को ज्ञान देने शिक्षकों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। पुलिस का ये तांडव पटना की एसएसपी गरिमा सिंह की मौजूदगी में हुई, जो प्रदर्शन स्थल पर मोर्चा सांभाले दिखी।

इन तस्वीरों को देखिए, बेचारे लाचार शिक्षक जान बचाने के लिए नाले में कूद गए, लेकिन बेदर्द पुलिसावालों ने रहम नहीं की, किसी का कॉलर पकड़ सड़क पर घसीट दिया, तो किसी को भागते भागते भी लाठी डंडो से पीट दिया। आरोप है कि प्रदर्शनाकीरी शिक्षकों ने पुलिस की बैरिकेड तोड़ने की कोशिश की, जिससे खफा पुलिवालों ने पहले शिक्षकों पर वॉटर कैनन का इस्तेमाल किया, लेकिन बात नहीं बनी।

आरोप है कि प्रदर्शनकारी शिक्षकों ने पुलिस बल पर पथराव कर दिया, जिसके उग्र हुए पुलिस कर्मियों ने शिक्षकों पर जमकर लाठियां भांजी, पुलिस और शिक्षकों के बीच हुई झड़प में कई शिक्षक चोटिल हुए हैं। शिक्षकों के प्रदर्शन को लेकर बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के महासचिव मंडल के सदस्य अमित विक्रम की मानें तो इस प्रदर्शन को राज्य के सभी सरकारी विद्यालय में तैनात नियोजित शिक्षकों का समर्थन प्राप्त है।

loading...