Breaking News
  • सोनभद्र जमीन मामले में अब तक 26 आरोपी गिरफ्तार, प्रियंका करेंगी मुलाकात
  • वेस्टइंडीज दौरे के लिए रविवार को 11:30 बजे होगा टीम इंडिया का चयन
  • बिहार : बाढ़ से अब तक 83 लोगों की मौत
  • कर्नाटक में आज दोपहर डेढ़ बजे तक सरकार को साबित करना होगा बहुमत

पालीगंज में गरजे पीएम- नामदारों के पास कहां से आई करोड़ों की संपत्ति

पटना: लोकसभा चुनाव के तहत छह चरण में बिहार की 40 में से 32 सीटों पर वोटिंग हो चुकी है, जबकि बची हुई 8 सीटों के लिए सियासी दलों के बीच आर-पार की लड़ाई जारी है। अंतिम चरण की वोटिंग से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के पालीगंज में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पाकिस्तान से हिंदुस्तान तक सभी विरोधियों पर जमकर हमला बोला। साथ ही उन्होंने राज्य की नीतीश सरकार की तारीफों को पुलिंदे भी बांधे।

विपक्ष को महामिलावटी बताते हुए पीएम ने कहा की ये सभी घोर नकारात्मकता के साथ चुनाव लड़ रहे हैं। इन्हें ऐहसास नहीं है कि मोदी यहां 130 करोड़ भारतीयों के आशीर्वाद से है। इनके पास दो ही मुद्दे हैं, मोदी की छवि खराब करो और मोदी को हटाओ। लेकिन इन महामिलावटी लोगों को ऐहसास नहीं है कि मोदी आज यहां पर 130 करोड़ भारतीयों के आशीर्वाद से है।

वहीं पीएम ने कांग्रेस और आरजेडी परिवार पर संयुक्त हमला करते हुए काहा कि कांग्रेस का नामदार परिवार हो या फिर बिहार का भ्रष्ट परिवार, इनकी संपत्ति आज सैकड़ों-हजारों करोड़ों रुपये में है। आखिर ये पैसे कहां से आए? अगर गरीब और देश की जरा सी भी परवाह होती तो भ्रष्टाचार करने से पहले इनके हाथ कांपते।

वहीं राज्य की जनता को विकाश का भरोसा दिलाते हुए पीएम ने कहा कि हमने 2022 तक किसान की आय दोगुनी करने का संकल्प लिया है। अन्नदाता को सौर ऊर्जा दाता बनाने का काम हाथ में लिया है। इसके लिए बीज से बाजार तक नई व्यवस्थाएं खड़ी की जा रही हैं। वहीं पीएम ने कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा के उस बयान पर एक बार फिर से चुटकी ली जिसमें उन्होंने 1983 के सिख दंगों को लेकर हुआ तो हुआ कहा था।

पित्रोदा के इस बयान पर मोदी व उनकी पार्टी के अन्य नेता बीते कई दिनों से कांग्रेस पार्टी को घेर रहे हैं। बिहार की रैली में भी मोदी ने पित्रोदा के कंधे पर हथियार रखते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि कांग्रेस नेता इस मुद्दे पर माफी मांगना तो दूर इस बात को हुआ तो हुआ में उड़ा देते है।

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव के सातवे चरण का मतदान 19 मई को होना है। जिसमें बिहार की आठ सीटों पर मतदान होगा। वहीं चुनाव में किस पार्टी को मिलेगी जीत और किसकी होगी हार, इसका फैसला 23 मई को चुनावी नतीजे आने के बाद होगा।

loading...