Breaking News
  • पश्चिम बंगाल के दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
  • संभल: महिला को रेप के बाद मंदिर के हवन कुंड में जिंदा जलाया
  • क्रोएशिया को रौंद फ्रांस ने 20 साल बाद जीता दूसरी बार फीफा विश्वकप

तो क्या 12 जुलाई को टूट जाएगा बीजेपी-जेडीयू का गठबंधन?

पटना: राजनीति में जो संभव है वही असंभव है और जो असंभव है वही संभव हो जाता है। दरअसल राजनीति की गिनी चुनी परिभाषायें हैं, लेकिन जब बात राजनीति में घाट-घाट का पानी पीने वाले नीतीश कुमार की आये तो सारी परिभाषाएं एक ओर रख दी जाती हैं। क्योंकि नीतीश कुमार खुद परिभाषा लिख डालते हैं।

बतादें कि बिहार में राजनीति का मरम जानने और समझने वाले जानकार लिखते है कि 12 जुलाई को बिहार में नई राजनीति का उदय होने वाला है। इस दिन कोई बड़ा ऐलान हो सकता है। वह जेडीयू बीजेपी के गठबंधन तोड़ने का भी हो सकता है या बीजेपी के दवाब में आकर नीतीश कुमार का (जो मिला उसी में संतुष्ट) भी हो सकते हैं। दरअसल बात कुछ ऐसी है कि 12 जुलाई को बीजेपी प्रमुख अमित शाह बिहार की राजधानी पटना पहुंच रहे हैं। उनका दौरा बीजेपी नेताओं को संबोधित करने के साथ आगामी लोकसभा चुनाव में सीट बंटवारे को लेकर भी हो रहा है। बिहार की राजनीति को समझने वाले जानते हैं कि जेडीयू प्रमुख नीतीश कुमार ने कभी भी घाटे का सौदा नहीं किया।

कर्नाटक: जेडीएस नेता ने लिया ऐसा फैसला कि 'सरकार' भी रह गयी हैरान

 

जिस लालू के खिलाफ खड़े होकर वह सत्ता में आये थे, साल 2015 में उसी लालू के साथ मिलकर सरकार भी बना डाली। तो समझ सकते है कि अगर लोकसभा चुनाव में जेडीयू को उसकी मन के मुताबिक़ सीटें नहीं मिली तो वह फिर से बीजेपी को बाय-बाय बोल सकती है। कहा जा रहा है कि इस अमित शाह के साथ जेडीयू प्रमुख नितीश कुमार सहित पार्टी के कई नेताओं के साथ बैठक होने वाली है। इस बैठक में सबसे अहम चर्चा लोकसभा चुनाव में सीट बटवारे को लेकर होनी है।

ऐसा भी कोई करता है: यह खबर पढ़ने के बाद ट्रैफिक पुलिस से उठ जाएगा भरोसा...

जहाँ जेडीयू का बिहार में 18-20 सीट पर लड़ने पर अड़ी है तो लोक जनशक्ति पार्टी और उपेन्द्र कुशवाहा के अपने अलग तेवर हैं। इन हालातों में बीजेपी को सभी को साथ लेकर चलना मुश्किल होगा। जहाँ जेडीयू की हुई राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक के बाद उसका गर्म रुख देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि सीट बंटवारे पर एकबार फिर से बीजेपी और जेडीयू में घमासान छिड़ सकता है। जिससे कहा जा रहा है कि 12 जुलाई को बीजेपी और जेडीयू के गठबंधन का भविष्य तय हॉप जाएगा है।

यह भी देखें- 

loading...