Breaking News
  • टेररिस्तान, आतंक के लिए करता है अपनी सरजमीं का इस्तेमाल- भारत
  • पाकिस्तानी आतंकवाद पर भारत ने UNGA में दिया करारा जवाब कहा
  • पाकिस्तान ने पहली बार कुबूले घुसपैठियों के शव
  • पीएम नरेंद्र मोदी दो दिनों के वाराणसी दौरे पर
  • कोलकाता वनडे: भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 50 रनों से हराया, 2-0 से आगे

आपके पास भी है ऐसी गाड़ी तो रहे सावधान- हो सकता है बैन!

नई दिल्ली: अगर आप के पास भी 15 साल पुरानी गाड़ी है तो सावधान हो जाइए, क्योंकि भारत में 15 साल से पुराने वाहन बैन हो सकते हैं। भारत को सबसे ज्यादा प्रदूषण फैलाने वाले देशो में गिना जाता है। दुनिया के सबसे बडे ऑटोमोबाइल मार्केट में भारत भी शामिल है। इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चर्स सोसाइटी 15 साल से पुराने वाहनों को बैन कर सकती है।

SIAM ने कहा कि भारत को इलैक्ट्रिक वाहनो को यूज करना चाहिए और उसके प्रोडक्शन पर भी ध्यान देना चाहिए। इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चर्स सोसाइटी ने भारत सरकार व संबधित मंत्रियों से अनुरोध किया है कि प्रदूषण कम करने के लिए 15 साल पुरानी कारों को बैन किया जाएं। 57वीं SIAM की सालाना बैठक में SIAM के को-ऑर्डिनेटर और अशोक लीलैड के सीईओ और एमडी, विनोद ने संबंधित अथॉरिटी पे गुज़ारिश की है कि नेशनल ऑटोमोटिव बोर्ड का गठन किया जाना चाहिए।

बिना पेट्रोल के दौड़ेगी TVS की नई स्कूटर- जाने ऐसा क्या होगा खास!

भारत सरकार को प्रदूषण को खत्म करने के लिए पॉलिसी बनाने में यह बोर्ड मदद करेगा। मेक इन इंडिया प्रोग्राम के बाद इस सेक्टर में व्यापार करना और भी आसान हो गया है और अब ऑटो इंडस्ट्री 50 प्रतिशत घरेलू प्रोडक्ट के बिल्कुल नज़दीक है। इसी प्रोग्राम में नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कंट ने 100 प्रतिशत ज़ीरो एमिशन या दूसरे शब्दों में कहे तो बिना डीजल पेट्रोल के चलने वाले वाहनों पर जोर दिया है।

4-6 लाख से भी कम कीमत में टच स्क्रीन से लैस कारें- आसान होगी ड्राइविंग!

उन्होंने SIAM से एक सुर में बात करने को कहा है। फिलहाल बनी योजनाओं को सरकार ने बनाया और लागू किया है वैसे ही भविष्य में योजना बने तो वो SIAM बनाए। भारत इंलैक्ट्रिक वाहन बनाने वाले देशों में सबसे ऊपर हो इस बात पर सरकार को ध्यान देना चाहिए। सिर्फ भारत ही नहीं world लेवल पर भी इलैक्ट्रिक वाहन बनाने वाले देशों में भारत की गिनती हो।

REPORT BY: HIMANSHU SINGH

 

loading...