Breaking News
  • एशियाई खेलः बजरंग पुनिया जीता पहला गोल्ड मेडल, किया दिवंगत अजट जी को समर्पित
  • एशियाई खेलः 10 मी. एयर राइफल में दीपक कुमार ने जीता रजत पदक
  • कर्नाटक के कई तटीय जिले बाढ़ की चपेट में, बचाव एवं राहत अभियान जारी

‘विश्व के सबसे बड़े घोटाले में शामिल है मोदी’ संसद में मचा बवाला!

नई दिल्ली: संसद के मानसून सत्र का आज आखिरी दिन है और ऐसी पूरी उम्मीद है कि तीन तलाक विधेयक संशोधनों के साथ राज्यसभा में पेश किया जा सकता है। लेकिन इससे पहले राफेल डील के मसले पर सरकार विरोधी दलों ने संसद परिसर में कालीपट्टी बांधकर प्रदर्शन किया।

विपक्ष के इस प्रदर्शन में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन यानी यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ वामदल के नेता डी राजा, आम आदमी पार्टी नेता सुशील गुप्ता के साथ अन्य कई वरिष्ठ नेता शामिल हुए। सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे नेताओं के हाथ में 'मोदी करप्शन एक्सपोज', 'अंबानी-अडानी हर ओर है, मोदी-शाह चोर है', 'वी डिमांड जेपीसी' जैसे शब्दों वाली तख्तियां भी दिखे।

VIDEO: शहीद की अंतिम यात्रा में दिखा अद्भुत नजारा, सड़क भी पड़ गई छोटी

वहीं राज्यसभा में सदन की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस पार्टी ने इस मसले को उठाते हुए जेपीसी की मांग उठायी। इस क्रम में कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि इस घोटाले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल हैं। वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नेता गुलाम नबी आजाद ने राफेल डील को राफेल घोटाला कहते हुए विश्व का सबसे बड़ा घोटाला करार दिया। इसके साथ ही कांग्रेस पार्टी ने मामले में जेपीसी जांच की मांग को लेकर भारी हंगामा किया।

हालांकि कांग्रेस के हंगामे के बाद भी राज्यसभा के नवनिर्वाचित उपसभापति हरिवंश ने कहा कि इसपर आज चर्चा नहीं हो सकती है। वहीं दूसरी ओर विपक्ष के आरोपों को खारिज करते हुए केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने कहा कि कांग्रेस बिना किसी आधार के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर झूठा आरोप लगा रही है। उन्होंने कहा कि, संसद बिल बनाने के लिए है न की झूठे आरोप लगाने के लिए।

आसन संभालते ही हरिवंश ने कह दी ऐसी बात, ठहाकों से गूंज उठा सदन

loading...